Main Sliderअंतर्राष्ट्रीयउत्तर प्रदेशलखनऊव्यापार

चीन छोड़ यूपी आना चाहती हैं अमेरिकी कंपनियां, योगी सरकार देगी विशेष पैकेज

लखनऊ। एमएसएमई व निर्यात प्रोत्साहन मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा कि अमेरिकी मूल की जो कंपनियां चीन से बाहर आकर उतर प्रदेश में इकाइयां लगाना चाहती हैं, उन्हें यूपी सरकार विशेष पैकेज देने के लिए तैयार है।

सिद्धार्थनाथ इंडो-अमेरिकन चैंबर ऑफ कॉमर्स, नार्थ इंडिया काउंसिल की ओर से आयोजित ‘कोविड-19 के बाद अमेरिकी कंपनियों के लिए उतर प्रदेश हॉट डेस्टिनेशन’ पर आधारित वेबिनार में बोल रहे थे। एसईपीसी और क्रिएट एनर्जी (इंडिया) प्राइवेट लिमिटेड के तत्वावधान में शुक्रवार को इसका आयोजन किया।

कोरोना वायरस के संक्रमण से गई एम्स के मेस कर्मचारी की गयी जान

सिंह ने कहा कि हम इस दिशा में भी ठोस प्रयास कर रहे हैं कि रुकी हुई अर्थव्यवस्था को लॉकडाउन के बाद कैसे गति दी जाए। संभावित विकल्पों में से एक चीन से भारत की ओर आने वाली विनिर्माण कंपनियों को प्रोत्साहित करने और अतिरिक्त सुविधा के लिए चर्चा की गई।  ताकि, भारत में अमेरिकी मूल की कंपनियों को उतर प्रदेश में कैसे सर्वाधिक निवेश के लिए लाया जा सके। पूर्व सरकार की प्रवृति और राजनीतिक परिदृश्य को देखते हुए ही निवेश करता है। उतर प्रदेश में निवेश और निवेशक दोनों ही सुरक्षित हैं।
औद्योगिक विकास मंत्री सतीश महाना ने दावा किया है कि प्रदेश में औद्योगिक गतिविधियां पटरी पर लौटने लगी हैं। करीब 85 फीसदी औद्योगिक इकाइयों में काम शुरू हो गया है। बाकी में उत्पादन जल्द से जल्द शुरू हो जाने की संभावना है।

उन्होंने कहा है कि प्रदेश में निवेश को आकर्षित करने के प्रयासों को अपेक्षा से अधिक समर्थन मिलने की उम्मीद है। उन्होंने बताया कि लॉकडाउन से प्रभावित उद्योगों को आगे बढ़ाने के लिए तेजी से काम किया जा रहा है। विदेशी निवेश को आकर्षित करने के लिए किए जा रहे प्रयास के कारण अपेक्षा से अधिक निवेश आने की संभावना है।

loading...
Loading...