अमृतसर हादसा : ट्रेन ड्राईवर ने कहा- इमरजेंसी ब्रेक के बाद भी नहीं रुकी ट्रेन

ट्रेन ड्राईवरट्रेन ड्राईवर

अमृतसर। अमृतसर में बड़े रेल हादसे के बाद बही भी किसी तरह की गिरफ्तारी या कानूनी कार्यवाही नहीं हो पाया है। यह अपने आप में पंजाब पुलिस और सरकार पर हजारों सवाल खड़े करता है। इधर ट्रेन ड्राईवर ने लिखित सफाई में कहा है कि वो ट्रेन को रोकने के लिए इमरजेंसी ब्रेक लगा रह था लेकिन ट्रेन नहीं रुकी। साथ ही ट्रेन ड्राईवर ने कहा है कि मुझे ग्रीन सिग्नल मिली फिर भी मेरे ट्रेन पर पथराव किया जा रहा था। बता दें कि पहले ही रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा ने रेलवे को क्लीनचीट दे दी है।

ट्रेन ड्राईवर ने लिखित में दिया बयान

अमृतसर में दशहरा उत्सव के दौरान DMU ट्रेन की चपेट में आने से कई लोगों की दर्दनाक मौत हो गई। जिसके बाद रेलवे की तरफ से डीआरएम फिरोजपुर विवेक कुमार का कहना है कि इस मामले में रेलवे की किसी तरह की कोई गलती नहीं है। साथ ही उन्होंने ट्रेन ड्राइवर और गार्ड का भी बचाव किया है। उन्होंने कहा कि इन पर किसी तरह की कोई कार्रवाई नहीं की जाएगी और न ही कोई जांच की जाएगी। रेलवे का कहना है कि वो अपने सिस्टम के लिहाज से सही हैं। वहीं मामले के बाद ड्राइवर से पूछताछ की गई और लिखित में बयान ले लिया गया।

ये भी पढ़ें : विधान परिषद सभापति के छोटे बेटे की संदिग्ध परिस्थिति में मौत 

दूसरी तरफ अमृतसर नगर निगम की आयुक्त सोनाली गिरी ने बताया, ‘दशहरा समारोह आयोजित करने की अनुमति किसी को नहीं दी गई थी। इसके अलावा किसी ने भी अमृतसर नगर निगम में अनुमति के लिए आवेदन भी नहीं किया था।’ आयुक्त ने कहा कि पिछले साल से अलग शुक्रवार शाम में व्यापक पैमाने पर समारोह का आयोजन किया गया था। उन्होंने बताया, ‘शुक्रवार शाम में जितने बड़े समारोह का आयोजन किया गया पिछले साल इतने व्यापक स्तर पर कार्यक्रम नहीं किया गया था।’

loading...
Loading...

You may also like

भगवान हनुमान और अम्बेडकर प्रतिमा हटाये जाने पर ग्रामीण हुए उग्र

लखनऊ। माल इलाके में बिना परमीशन के पंचायत