इस राज्य में सत्ता से बेदखल होगी भाजपा, कांग्रेस की होगी सरकार में वापसी

भाजपाभाजपा

नई दिल्ली। भाजपा को आन्ध्र प्रदेश में बड़ा झटका लगा सकता है। यहां पर विशेष राज्य का अधिकार न दिए जाने से नाराज तेलुगु देशम पार्टी (टीडीपी) ने जब से मोदी सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। कहा जा रहा है कि टीडीपी प्रमुख जल्द की एनडीए और भाजपा से गठबंधन तोड़ने का ऐलान कर सकते हैं। साथ ही उनके पार्टी के नेता मंत्री पद से इस्तीफ़ा दे सकते हैं। वहीं सूत्रों की माने तो टीडीपी कांग्रेस के साथ गठबंधन बना सकती है।

पढ़ें:-अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहीम करना चाहता है सरेंडर, वकील ने दी जानकारी 

भाजपा को लग सकता है बड़ा झटका

बता दें कि टीडीपी मोदी सरकार लगातार आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्ज देने की मांग कर रही है और चन्द्रबाबू नायडू की पार्टी लगातार इस मामले को लेकर मांग कर रही है। टीडीपी के सांसदों ने इस मुद्दे को संसद में भी उठाया है। लेकिन वित्तमंत्री अरुण जेटली ने साफ़ तौर पर कह दिया है कि किसी भी राज्य को विशेष राज्य का दर्ज नहीं दिया जाएगा। सूत्रों माने तो टीडीपी ने भाजपा को इस मामले पर फैसले के लिए 10 मार्च तक का समय दिया है और संसद के अंदर इस संबंध में बड़ा ऐलान करने को कहा है।

पढ़ें:-तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी पर पत्नी ने लगाये मारपीट और अवैध सम्बंध के आरोप 

बताया जा रहा कि मंगलवार को अमरावती में हुई टीडीपी विधायक दल की बैठक में ज्यादातर विधायकों ने भाजपा के साथ गठबंधन तोड़ने की बात कही। इस बैठक में 125 विधायकों ने हिस्सा लिया। माना जा रहा है कि पार्टी केंद्र सरकार से भी हट सकती है। सरकार में शामिल उसके 2 मंत्री भी इस्तीफा सौंप सकते हैं। हालांकि पार्टी प्रमुख और आंध्र के मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू ने अपने मंत्रियों के इस्तीफे या किसी भी तरह के अन्य बड़े फैसले लेने के लिए इंतजार करने को कहा है। वह अभी परिस्थितियों नजर बनाए हुए हैं।

loading...
Loading...

You may also like

निकाय चुनाव : दक्षिणी कश्मीर में भाजपा, तो लेह में कांग्रेस ने लहराया परचम

श्रीनगर। दक्षिण कश्मीर के आतंक प्रभावित चार जिलों