बंथरा में गौवंशीय पशुओं की हत्या कर मांस उठा ले गए तस्कर

- in Main Slider, क्राइम, राजनीति

लखनऊ। बंथरा इलाके में बुधवार सुबह एक आम की बाग में करीब आधा दर्जन से अधिक गोवंश के संदिग्ध अवस्था में सिर कटे पड़े मिलने से हडक़ंप मच गया। जानकारी मिलते ही ग्रामीणों की भीड़ एकत्र हो गई। आनन-फानन में घटना की सूचना पुलिस को दी गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने ग्रामीणों की मदद से सभी को जमीन में दफना दिया। फिलहाल घटना को लेकर गांव में तनाव बना हुआ है। इस मामले में पुलिस अज्ञात लोगों के खिलाफ  रिपोर्ट दर्ज कर उनका पता लगा रही है।

बंथरा के बादे खेड़ा गांव स्थित वीरेंद्र की आम की बाग में मंगलवार रात अज्ञात लोगों ने करीब आधा दर्जन से अधिक प्रतिबंधित गोवंश पशुओं की हत्या कर दी। हत्यारे पशुओं का मांस उठा ले गए और अवशेष वहीं फेंक कर भाग निकले। बुधवार सुबह ग्रामीणों की नजर पड़ी तो वहां हडक़ंप मच गया। कुछ देर में ही ग्रामीणों की काफी भीड़ एकत्र हो गई। आनन-फानन मे घटना की सूचना पुलिस को दी गई।

मौके पर पहुंची पुलिस ने छानबीन की तो वहां पर प्रतिबंधित गोवंशीय जानवरों के अवशेष मिले। घटनास्थल पर चार पहिया वाहन के निशान भी पाए गए हैं। इससे अंदाजा लगाया जा रहा है कि अज्ञात गोवंश मांस तस्करों ने घटना अंजाम दी है और जानवरों हत्या करने के बाद वह किसी चार पहिया वाहन से उनका सारा मांस उठा ले गए। मौके पर प्लास्टिक की एक रस्सी भी पड़ी मिली है।

ये भी पढ़ें:- अर्घ देने छठ घाट जा रहे चाचा-भतीजा की गोली मारकर हत्या 

ग्रामीणों का अनुमान है कि तस्करों ने जानवरों की हत्या करने के दौरान उक्त रस्सी का इस्तेमाल किया होगा। फिलहाल पुलिस ने मौके पर मिले गोवंशीय सिर और उनके अन्य अंगों सहित सारे अपशिष्ट को वहीं पर जमीन में दफनवा दिया है। ग्रामीणों का कहना है कि पुलिस की लापरवाही से इलाके में काफी दिनों से गोवंशीय मांस के तस्कर सक्रिय हैं और इससे पहले भी आस पास गांवों में वह कई बार ऐसी घटना अंजाम दे चुके हैं। उधर इस मामले में पुलिस ने भटगांव के ग्राम प्रधान पति जीत बहादुर यादव की ओर से अज्ञात लोगों के खिलाफ पशु क्ररूरता अधिनियम के तहत रिपोर्ट दर्ज कर उनकी तलाश शुरू कर दी है।

Loading...
loading...

You may also like

सूर्य के प्रभाव से आज इन 8 राशियो के भाग्य की मुसीबतें होंगी दूर

आज सूर्यदेव आठ राशि वालों पर कृपा करने