उमर खालिद पर हमला करने वाले दोनों गौरक्ष गिरफ्तार

उमर खालिदउमर खालिद

नई दिल्ली। पुलिस को जेएनयू छात्र नेता उमर खालिद के हमले के मामले में बड़ी कामयाबी मिली है। पुलिस ने दो हमलावरों को गिरफ्तारी कर ली है पुलिस ने बताया है की दोनों हमलावर खुद को गौरक्षक बता रहे है।

कांस्टीट्यूशन क्लब में उमर खालिद पर हमला किया गया था

बता दें कि 13 अगस्त की शाम को संसद से कुछ दूर पर कांस्टीट्यूशन क्लब में उमर खालिद पर हमला किया गया था। इन दोनों आरोपियों ने व्हाट्सऐप पर एक वीडियो जारी कर उमर पर हमले की जिम्मेदारी ली थी। इसके साथ ही ये दावा किया था कि ये दोनों गौरक्षक हैं और उमर पर हमला कर ये देश को स्वतंत्रता दिवस पर तोहफा देना चाहते थे।स्पेशल सेल के एक वरिष्ष्ठ अधिकारी ने बताया कि उमर खालिद पर हमला करने वाले आरोपी का नाम नवीन दलाल है। वह हरियाणा के झज्जर स्थित गांव मनौती का रहने वाला है। आरोपी खुद के गौरक्षक होने का दावा करता है। बताया जा रहा है कि उसके साथी भी गौरक्षक हैं। स्पेशल सेल की जांच में ये बात सामने आ गई है कि, आरोपी उमर खालिद पर हमले वाला दिन दिल्ली के कॉस्टीट्यूशन क्लब में था।

ये भी पढ़े : विस्फोटकों से हो रही थी झारखंड को दहलाने की शाजिश

नवीन के लोकेशन के आलावा और सभी बातों से साबित हो गया है की दोनों आरोपी उमर खालिद के हमले वाले दिन वे अपने गांव से बहार थे।दिल्ली पुलिस की टीम उसे पकड़ने के लिए हरियाणा, पंजाब व दिल्ली में दबिश दी थी।नवीन दलाल अपने शाहपुर गांव निवासी दरवेश शाहपुर के साथ सोशल मीडिया पर वीडियो डाल कर उमर खालिद पर हमले की जिम्मेदारी ले चुका है। आरोपियों का कहना था कि देश के लोगों को स्वतंत्रता दिवस पर गिफ्ट देने के लिए उमर खालिद पर हमला किया।आरोपियों ने कहा था कि वह क्रांतिकारी करतार सिंह सराबा के गांव सराबा, लुधियाना में पुलिस के सामने सरेंडर कर देंगे। मगर दोनों ने रविवार शाम तक सरेंडर नहीं किया।

loading...

You may also like

दलित समर्थक छवि से दूर हो रही मायावती? SC/ST पदोन्नत पर दिया ऐसा बयान

लखनऊ। बुधवार को अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति