ख़ास खबरखेलराष्ट्रीय

अरुण धूमल ने कहा- आईपीएल विंडो के लिए टी-20 वर्ल्ड कप को लेकर BCCI नहीं होगा दबाव

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के कोषाध्यक्ष अरुण धूमल ने कहा है कि भारतीय क्रिकेट बोर्ड आईपीएल को कराने के लिए टी-20 वर्ल्ड कप स्थगित करने के लिए नहीं कहेगा। लेकिन अगर अक्टूबर-नवंबर का स्लॉट मिलता है तो आईपीएल के लिए विचार किया जा सकता है।

हाल ही में बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने कहा था कि कोरोना वायरस की वजह से इस साल अगर आईपीएल का आयोजन नहीं होता है तो इससे बोर्ड को 4000 करोड़ रुपये का नुकसान हो सकता है।

अगर इस साल आईसीसी टी-20 वर्ल्ड कप 2020 का आयोजन होता है तो आईपीएल खुद ही स्थगित हो जाएगा, क्योंकि इसके अलावा और कोई विंडो खाली नहीं है। टी-20 वर्ल्ड कप 18 अक्टूबर से 15 नवंबर के बीच खेला जाना है, लेकिन कोरोना वायरस की वजह से इन दोनों ही टूर्नामेंट पर फिलहाल खतरे के बादल मंडरा रहा हैं।

ऑस्ट्रेलियाई मीडिया में इस तरह की खबरें आ रही हैं कि भारत का प्रभावशाली क्रिकेट बोर्ड आईपीएल के लिए विंडो खोलने के लिए टी-20 विश्व कप को स्थगित करने पर जोर दे सकता है। इन खबरों पर अरुण धूमल ने कहा आईसीसी की अगले हफ्ते की मीटिंग में टी-20 वर्ल्ड के आयोजन को लेकर चर्चा होगी, लेकिन भारत इसे स्थगित करने की सिफारिश नहीं करेगा।

धूमल ने कहा, ”बीसीसीआई को टी-20 विश्व कप को स्थगित करने का सुझाव क्यों देना चाहिए?” उन्होंने कहा, ”जब भी सही होगा, हम इस बारे में चर्चा करेंगे, लेकिन आखिरी फैसला आईसीसी का ही होगा।”

उन्होंने कहा, ”अगर ऑस्ट्रेलियाई सरकार ने घोषणा की कि टूर्नामेंट होगा और क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया को भरोसा है कि वे इसे संभाल सकते हैं तो यह उनका फैसला है। बीसीसीआई कोई सलाह नहीं देगा।” धूमल ने सवाल किया कि क्या टूर्नामेंट को बिना दर्शकों के आगे बढ़ना चाहिए। उन्होंने साथ ही कहा कि ऑस्ट्रेलियाई सरकार किसी भी फैसले में अहम भूमिका निभाएगी।

उन्होंने कहा, ”यह सब ऑस्ट्रेलियाई सरकार पर निर्भर करता है। चाहें तो वे इतनी सारी टीमों को आने की और टूर्नामेंट को खेलने की इजाजत दें। लेकिन बिना दर्शकों के खेलना क्या सही है? क्या सीए के लिए इस तरह के टूर्नामेंट का आयोजन करना सही है? यह उनका फैसला होगा।”

loading...
Loading...