बदलते मौसम का सिलसिला शुरू होते ही सेहत के लिहाज से मुश्किल

लाइफस्टाइल
Loading...

सर्दियों का मौसम सेहत के लिहाज से बेहद मुश्किल होता है। मौसम बदलते ही बीमारियों का सिलसिला शुरू हो जाता है। खासकर, बच्चे इसकी चपेट में जल्दी आ जाते हैं। सर्दी-जुकाम के साथ की गले में खराश होना भी इस सीजन की आम समस्या है। आइए, आपको कुछ घरेलू उपाय बताते हैं जिनसे आप गला खराब होने पर राहत पा सकते हैं।

  • अकसर हल्दी के दूध को आप दादी नानी का नुस्खा कहकर नजरअंदाज कर देते हैं। पर इस नुस्खे में बड़े-बड़े गुण हैं। सर्दी-जुकाम, बुखार और गले की खराश में हल्दी का दूध काफी फायदेमंद है। इसकी ऐंटी-इनफ्लेमेटरी गुण गले में दर्द से राहत देते हैं।
  • गले की खराश में यह सबसे आम उपाय है। नमक के पानी से गरारा करने पर गले के दर्द और खराश में आराम मिलता है। नमक के पानी से गरारा करने पर नमक गले में मौजूद फ्लूइड्स को अब्सॉर्ब करके निकाल देता है और गले को राहत देता है।
  • नमक की जगह आप पानी में हल्का सा बेकिंग सोडा मिलाकर भी गरारा कर सकते हैं। बेकिंग सोडा इनफेक्शन खत्म करने में भी मदद करता है।
  • शहद में अच्छी सेहत के कई गुण छिपे हैं। इसके ऐंटी-ऑक्सिडेंट और ऐंटी-इनफ्लेमेटरी प्रॉपर्टी गले की खराश से आराम दिलाते हैं। आप शहद को गर्म दूध या गर्म नींबू पानी के साथ ले सकते हैं।
  • हरी सब्जियां अपने गुणों के लिए जानी जाती हैं। मेथी में ऐंटी माइक्रोबियल प्रॉपर्टी होते हैं जिससे यह गले को आराम देता है। यह गले के दर्द, सूजन और इरिटेशन से भी राहत देता है।
  • अगर हम आपको लहसुन की कलियां चबाने के लिए कहें तो आपको यह अजीब लग सकता है लेकिन लगे की खराश और अन्य तरह के इनफेक्शन से लड़ने में यह काफी मददगार है। आपको बता दें यह पलूशन से लड़ने में भी मदद करता है।
Loading...
loading...

You may also like

बाल दिवस विशेष : बच्चों में डालें यह विशेष आदतें

Loading... 🔊 Listen This News आज के बच्चे