दुर्घटना के बहाने 500 करोड़ के भ्रष्टाचारियों को बचाने की कोशिश, आग के भेंट चढ़ी LDA की फाइलें

Please Share This News To Other Peoples....

लखनऊ। राजधानी में सरकारी दफ्तरों में आगजनी की घटनाएँ थमने का नाम नहीं ले रही हैं। एक के बाद एक घटनाये सामने आ रही हैं। ताजा मामले लखनऊ के विकास प्राधिकरण का है। जहाँ पर शनिवार को आग लग गई। इस दुर्घटना में कई फाइलें जलाकर ख़ाक हो गयी हैं। वहीँ किसी के हताहत होने की कोई खबर नहीं है।

जानकारी के मुताबिक शनिवार की सुबह एलडीए की नई बिल्डिंग के चौथे मंजिल पर में अचानक आग लग गयी। जिसके बाद गार्डों ने आग की लपटों को उठता देख तत्काल फायर बिग्रेड को फोन किया। अधिकारियों को सूचना दी गई। मौके पर गोमती नगर पुलिस और 5 फायर बिग्रेड की गाड़ियां पहुंची। फायर बिग्रेड की गाड़ियां काफी मशक्कत के बाद आग पर काबू पा सकीं।

बताया जा रहा है कि आग भ्रष्टाचार के सबूतों को मिटाने के लिए जानबूझकर लगाई गई है। जिस फ्लोर पर आग लगी वहां भ्रष्टाचार से जुड़ी तमाम फाइलें रखी थीं। इस फ्लोर पर समायोजन और प्रॉपर्टी से संबधित फाइलें रखी थीं। समायोजन घोटाले के लगभग 500 करोड़ रुपये के भ्रष्टाचार की जांच चल रही थी। ऐसे में अचानक उसी फ्लोर पर आग लगना जहां भ्रष्टाचार के सबूत रखे थे संदिग्ध माना जा रहा है। एलडीए में लगी इस आग में तमाम भ्रष्टाचार की फाइलें ही नहीं कंप्यूटर भी जलकर खाक हो गए। कंप्यूटर जलने से इसमें रखे गए डॉक्युमेंट्स और सुरक्षित किया गया डाटा भी जल गया। विकास प्राधिकरण में करोड़ों रुपये खर्च करके फायर सिस्टम लगाया गया थी। कुछ समय पहली ही फायर सिस्टम में दुरुस्त करने में करोड़ों रुपये कर्च किए गए थे। जब एलडीए में आग लगी तो फायर सिस्टम नहीं चला।

Related posts:

VIDEO : छठ महापर्व पर अस्ताचलगामी सूर्य को छठव्रतियों ने दिया अर्घ्य
दुष्कर्म के मामले में शिक्षक गिरफ्तार
अयोध्या विवाद पर बनी फिल्म का विरोध शुरू, हिन्दू युवा वाहिनी ने दी चेतावनी
गंगा के मुकाबले गोमती नदी ज्यादा प्रदूषित
Agra : VHP और बजरंग दल ने शुरू की तिरंगा यात्रा, भारी पुलिस बल तैनात
सपा नेता नरेश अग्रवाल के बयान पर बवाल, पीएम मोदी को कहा....... #%$@*#.....!!
जिला पंचायत सिद्धार्थनगर की बैठक में अनुमानित 54.68 करोड़ का बजट पास
सीसीटीवी कैमरों की निगरानी मे होंगी अवध विवि की परीक्षाएं: प्रो. मनोज दीक्षित
यमुना एक्सप्रेस-वे पर भीषण सड़क हादसा, दिल्ली एम्स के 3 डॉक्टरों की मौत
स्वामी प्रसाद मौर्या का तीखा प्रहार, गठबंधन और मायावती के फैसले पर दिया बड़ा बयान
इलाहाबाद में फिर टूटी अंबेडकर की मूर्ति, माहौल हुआ खराब
अखिलेश-मायावती के पास 15 दिनों का समय, खाली करना होगा सरकारी बंगले

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *