ऑस्ट्रेलिया को नहीं है पाकिस्तान पर भरोसा,

- in खेल

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (सीए) ने इस साल पाकिस्तान में कोई भी मैच खेलने से इनकार कर दिया है. सीए ने पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) की उस गुजारिश को खारिज कर दिया है जिसमें उसे पाकिस्तान में दो वनडे मैच खेलने की बात कही गई थी. पीसीबी ने क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के कहा था कि यूएई में प्रस्तावित ऑस्ट्रेलिया और पाकिस्तान के बीच होने वाली पांच वनडे मैचों की सीरीज में से वह दो पाकिस्तान में खेले. यह दौरा इस साल सितंबर अक्टूबर में होना प्रस्तावित है. क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने सुरक्षा कारणों से इसे मानने से मना कर दिया. 

हालांकि क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने प्रस्ताव ठुकरा जरूर दिया है, मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार सीए ने पीसीबी को आश्वासन दिया है कि भविष्य में वह ऐसा करने के लिए विचार करने को तैयार है. सीए के प्रवक्ता ने कहा, हम चाहते हैं कि पाकिस्तान की अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में वापसी हो. हालाकि हमारी प्राथमिकता खिलाड़ियों और सपोर्ट स्टाफ की सुरक्षा है जिस पर हम समझौता नहीं कर सकते. हम सरकारी एजेंसियों और सुरक्षा संस्थानों को इस संबंध में सलाह देते रहेंगे.

बाद में विचार हो सकता है ऐसे प्रस्तावों  पर

अभी के हालातों में ऑस्ट्रेलियाई टीम के नजरिए से हम अभी दोनों देशों के बीच यूएई में होने वाले द्विपक्षीय दौरे को वहां से पाकिस्तान स्थानांतरित करने पर विचार नहीं कर रहे हैं. जब वे अगली सीरीज की मेजबानी करेंगे तब हम पाकिस्तान में खेलने के लिए विचार करने को तैयार हैं.  हमने पीसीबी को इस बारे में इस साल की शुरुआत में ही बता दिया था.” ऑस्ट्रेलिया ने 1098 से पाकिस्तान में कोई सीरीज नहीं खेली है. यह बयान ऐसे समय आाया है जब पीसीबी ने ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के अधिकारियों से बात की थी. पीसीबी ने इन देशों के बोर्ड से टी20 मैच को भी पाकिस्तान  में कराने की बात की थी जैसा कि पिछले साल वेस्टइंडीज और श्रीलंका ने किया था.

एहसान मनी कर रहे हैं कई दिनों से प्रयास

पीसीबी  प्रमुख एहसान मनी इस मामले में पिछले कुछ  समय से प्रयास कर रहे हैं. उन्होंने पिछले साल दोनों देशों के बीच हुई टेस्ट सीरीज के दौरान भी इस संबंध में प्रयास किए थे. मनी ने 2017 से अब तक जिम्बाब्वे, श्रीलंका, वेस्टइंडीज के पाकिस्तान दौरे का भी हवाला देते हुए सीए प्रमुख केविन रॉबर्ट्स को मनाने की कोशिश की थी. उल्लेखनीय है कि साल 2009 में श्रीलंका के खिलाड़ियों पर लाहौर में जानलेवा हमला हुआ था. जिसके बाद से लगभग सभी क्रिकेट खेलने वाले देशों ने पाकिस्तान में क्रिकेट खेलना बंद कर दिया था.

पिछले साल ही सितंबर अक्टूबर में पाकिस्तान और ऑस्ट्रेलिया के बीच दो टेस्ट मैच और तीन टी20 मैचों की सीरीज खेली गई थी. टेस्ट सीरीज में पाकिस्तान ने 1-0 से जीत हासिल की थी. इसके बाद टी20 सीरीज में भी ऑस्ट्रेलिया 3-0 से क्लीन स्वीप करने में कामयाब रही थी. इसी बीच ऑस्ट्रेलिया के कप्तान एरोन फिंच और पाकिस्तानी मूल के बल्लेबाज उस्मान ख्वाजा ने पाकिस्तान में दौरा करने की इच्छा जताई. हालांकि उन्होंने ऐसा केवल सुरक्षा संबंधी चिंताओं के दूर होने पर ही करने  की बात की. ख्वाजा ने कहा, “ जाहिर है कि जो क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया हमसे कहेगा, वह बड़ी चीज होगी. हम मामले को प्रशासकों पर छोड़ना चाहेंगे. वे हमारा ख्याल रखने में बढ़िया हैं और सुनिश्चित कर रहे हैं कि सब कुछ ठीक रहे. मैं पाकिस्तान में पैदा जरूर हुआ था, लेकिन इससे मुझे कोई अंतर नहीं पड़ता.

Loading...
loading...

You may also like

IPL के यूनीवर्स बॉस तो क्रिस गेल ही हैं, यकीन ना हो तो जानिए उनके इन कमाल के बारे में

🔊 Listen This News IPL 2019 की शुरुआत