आजमगढ़ : महिला हॉस्पिटल अधीक्षक की हठधर्मिता मरीजों और तीमारदारों पर भारी

महिला हॉस्पिटल अधीक्षक की हठधर्मिता
Loading...

आजमगढ़। आजमगढ़ जिले के महिला अस्पताल के मुख्य गेट पर जाम की हमेशा समस्या बनी रहती है। अस्पताल का एक और मुख्य गेट है, जिसे महिला हॉस्पिटल अधीक्षक खोलने को तैयार नहीं है।

महिला अस्पताल के मुख्य गेट पर जाम रहता है। इस कारण अस्पताल में आने-जाने वाली महिला मरीजों को समस्या का सामना करना पड़ता है। महिला अस्पताल के दो मुख्य गेट हैं, लेकिन चिकित्सा अधीक्षक की हठधर्मिता के कारण दूसरा दरवाजा नहीं खोला जा रहा है। इसके कारण यहां जाम की स्थिति बनी रहती है।

बातचीत करते हुए आजमगढ़ महिला चिकित्सालय की अधीक्षक अमिता अग्रवाल ने कहा कि यह चिकित्सालय का गेट है कोई बाई-पास नहीं। यदि इसे खोल दिया जाएगा तो सारा ट्रैफिक इधर से गुजरेगा, जिससे यहां रहने वाले मरीजों और तीमारदारों को समस्या का सामना करना पड़ेगा।

उन्होंने बताया कि आस-पास के जितने भी मॉल है। किसी में पार्किंग की व्यवस्था नहीं है। इस कारण बड़ी संख्या में लोग अस्पताल परिसर में अपनी गाड़ियां खड़ी करते हैं। इसकी शिकायत एसपी ट्रैफिक से भी की जा चुकी है, लेकिन अभी तक इस समस्या का समाधान नहीं हुआ। अस्पताल का दूसरा गेट खोले जाने के सवाल पर उन्होंने कहा कि यदि दूसरा गेट खोल दिया जाएगा तो जो सड़क पर जाम अस्पताल के बाहर लगता है वह अंदर लगने लगेगा और मरीजों को समस्या का सामना करना पड़ेगा।

Loading...
loading...

You may also like

दिवाली पर अलग उपायों को करने से बढ़ने लगती है आमदनी, इस बार जरूर अपनाएं

Loading... 🔊 Listen This News दिवाली के दिन