भय्यूजी महाराज की अंतिम यात्रा दो बजे के बाद निकलेगी, बेटी देगी मुखाग्नि

भय्यूजी महाराजभय्यूजी महाराज

इंदौर। संत और आध्यात्मिक गुरु भय्यूजी महाराज (उदाव राव देशमुख) ने बीते  मंगलवार गोली मार कर आत्महत्या कर ली थी। सुसाइड नोट में उनकी मौत का कारण तनाव बताया जा रहा है। पुलिस ने सुसाइड नोट के साथ रिवाल्वर भी बरामद कर ली है। महाराज की  आत्महत्या के बाद उनको बॉम्बे हॉस्पिटल के आसीईयू  में एडमिट किया गया। पर वहा पर उनकी मौत हो गई। जिसके बाद हॉस्पिटल के बहार उनके समर्थको की भीड़ जमा हो गई। मुख्यमंत्री शिवराज समेत कई नेताओं ने उन्हें श्रद्धांजलि दी और ये सिलसिला देर रात तक चलता रहा।

भय्यूजी महाराज

 सुबह 10 से से लेकर दोपहर 2 बजे तक होगें भय्यूजी महाराज के अंतिम दर्शन

भय्यूजी महाराज के अंतिम संस्कार से पहले  उनका पार्थिव शरीर को आवास से सुखलिया स्थित आश्रम ‘सूर्योदय’ में ले जाया गया है। जानकारी के अनुसार यहां  उनके पार्थिव शरीर को सुबह 10 से से लेकर दोपहर 2 बजे तक उनके अंतिम दर्शन के लिए रखा जाएगा। आश्रम ‘सूर्योदय’  से 2 बजे के बाद उनकी अंतिम यात्रा निकलेगी। जिसके बाद सायाजी होटल के पास मुक्तिधाम में उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा। अंतिम संस्कार में भय्यू जी महाराज के शव को मुखाग्नि उनकी बेटी कुहू देगी। जो पुणे में अभी पढ़ाई कर रही है। वहीं इस बीच अंतिम दर्शन के लिए उनके हजारों भक्त सूर्योदय आश्रम में पहुंच रहे है।

अध्यात्म की ओर जाने से पहले थे  फैशन डिजाइनर

मध्य प्रदेश के शुजालपुर में 29 अप्रैल 1968में  जन्मे भय्यूजी महाराज का मूल नाम उदयसिंह देशमुख है। वे के जमींदार परिवार से ताल्लुक रखते थे। वह पहले फैशन डिजाइनर थे और बाद में अध्यात्म की ओर मुड़ गए थे। भय्यूजी का लगभग सभी राजनीतिक दलों में दखल रहा है, कांग्रेस और आरएसएस के वो काफी करीबी रहे हैं।  इंदौर में बापट चौराहे पर उनका आश्रम है।

भय्यूजी महाराज

यहीं से वे अपने सद्गुरु दत्त धार्मिक ट्रस्ट के कार्यों और सामाजिक गतिविधियां का संचालन करते थे। अभी हाल ही में मध्य प्रदेश सरकार ने उन्हें राज्यमंत्री का पद भी ऑफर किया था पर भय्यूजी ने उससे ठुकरा दिया।

पिछले वर्ष की थी भय्युजी ने दूसरी शादी 

भय्यूजी महाराज की पहली पत्नी माधवी का नवंबर 2015 में पुणे में निधन हो चुका है। माधवी से उन्हें एक बेटी हुई जिसका नाम कुहू है जो फिलहाल पुणे में पढ़ाई कर रही है। भय्यूजी महाराज ने पिछले वर्ष 30 अप्रैल 2017 को मध्यप्रदेश के शिवपुरी की डॉक्टर आयुषी के साथ दूसरी शादी की थी। आयुषी उनके आश्रम में कई सालों से सेवाओं में समर्पित थी।

ये भी पढ़े :लखनऊ : मतदान केन्द्रों की अन्तिम सूची का प्रकाशन चार जुलाई को

प्रधानमंत्री,उद्धव ठाकरे,लता मंगेशकर संग कई हस्तियां पहुंची आश्रम

भय्यूजी महाराज ने हर क्षेत्र में अपनी पहुंच साबित की। मायानगरी मुंबई का ग्लैमर बॉलीवुड हो या राजनीति का खेल या फिर समाजसेवा का क्षेत्र उन्होंने हर जगह अपनी मौजूदगी दर्ज कराई।

भय्यूजी महाराज

देश के कई बड़े राजनेता, उद्योगपति, फिल्मी दुनिया की हस्तियां, गायक और चर्चित हस्तियां उनके आश्रम में आ चुके हैं। इनमें पूर्व राष्ट्रपति प्रतिभा देवी सिंह पाटिल, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे, मनसे प्रमुख राज ठाकरे, सुर साम्राज्ञी लता मंगेशकर, बॉलीवुड की मशहूर गायिका आशा भोंसले, अनुराधा पौडवाल, फिल्म अभिनेता, मिलिंद गुणाजी जैसे चर्चित नाम भी शामिल हैं।

loading...
Loading...

You may also like

बिहार-यूपी वाले बयान पर शिवराज का कमलनाथ पर पलटवार

नई दिल्ली। मध्य प्रदेश के नवनिर्वाचित मुख्यमंत्री कमलनाथ