भारतीय मजदूर संघ ने बजट के खिलाफ खोला मोर्चा, देशव्यापी प्रदर्शन का ऐलान

भारतीय मजदूर संघ
Please Share This News To Other Peoples....

नई दिल्ली। मोदी सरकार ने आज अपने कार्यकाल का आखिरी बजट पेश किया। लेकिन इस बजट से मध्यम वर्ग के लोग खुश नजर नहीं आ रही है। इस बजट को लेकर मध्यम वर्ग और नौकरी-पेशे से जुड़े लोग नाराज नजर आ रहे हैं। वहीं सरकार के खिलाफ आरएसएस के मुख्य सहयोगी संगठनों में से एक भारतीय मजदूर संघ ने मोर्चा खोल दिया है। मजदूर संघ ने राष्ट्रीय स्तर पर सरकार के बजट के खिलाफ प्रदर्शन का ऐलान कर दिया है। लोकसभा चुनाव से पहले आरएसएस के सहयोगी संगठन का यूं खुलकर बजट के विरोध में आना, सरकार के लिए अच्छा संकेत नहीं माना जा रहा है।

भारतीय मजदूर संघ ने जाहिर की नाराजगी

  • मजदूर संघ ने बजट को लेकर अपनी खुलकर नाराजगी जाहिर की है।
  • संघठन की तरफ से कहा गया है कि सरकार ने मजदूरों और नौकरीपेशा वर्ग का बजट में बिल्कुल भी ध्यान नहीं रखा है।
  • इसके अलावा सरकार ने इनकम टैक्स स्लैब में भी कोई बदलाव नहीं किया है।
  • इस बार के बजट में मजदूर वर्ग के लिए कोई भी घोषणा नहीं की गयी है।
  • आगनबाड़ी कार्यकर्ताओं और आशा वर्कर्स को भी सरकार से निराशा ही हाथ लगी है।
  • ऐसे में भारतीय मजदूर संघ ने बजट का निराशाजनक बताते हुए शुक्रवार को देशव्यापी प्रदर्शन की घोषणा कर दी है।
  • बता दें कि भारतीय मजदूर संघ आरएसएस के प्रमुख संगठनों में से एक है।
  • ये संगठन हमेशा मजदूरों की आवाज बुलंद करता है।
  • इसके पहले भी भारतीय मजदूर संघ मोदी सरकार की नीतियों की आलोचना करता रहा है।
  • संघ ने नोटबंदी और जीएसटी को लेकर भी कहा था कि इसके चलते छोटे और मध्यम उद्योगों को काफी नुकसान हुआ है।

Related posts:

मंदिर मुद्दे को भड़काने वाले राष्ट्रद्रोही, मोहन भागवत पर दर्ज हो FIR
दिल्ली के कांस्टेबल से बद्तर है यूपी का दरोगा: अजीत सिंह
गर्लफ्रेंड का रेप कर नग्न शव लेकर घर पंहुचा युवक, किया सरेंडर
वर्दी दो या फांसी दो के नारों से गूंजी राजधानी, सरकार तक बात पहुंचाने में जुटे हजारों पुलिस भर्ती के...
प्रेमी को पैसे देकर महिला ने कराई थी पति की हत्या...
किसानों की आय दोगुना करने में Medicinal and Aromatic Crops महत्वपूर्ण : गिरिराज सिंह
लखनऊ: बोर्ड परीक्षा देने निकले छात्र का अपहरण, खुद फ़ोन करके दी सूचना
इस्लाम को आतंकवाद से जोडऩे वाले सीरिया के नरसंहार पर खामोश क्यों : हाजी फहीम
रद्द हो सकता है कोयला खदान आवंटन, इतने करोड़ डूब जाएंगे "एस्सार पॉवर" के...
यूपी बोर्ड: हाईस्कूल व इंटरमीडिएट का रिजल्ट 29 अप्रैल को
सुप्रीम कोर्ट की सख्त टिप्पणी, अगर ईस्टर्न एक्सप्रेस-वे तैयार, तो पीएम हरी झंडी का इंतजार क्यों
अखिलेश-डिंपल के फर्जी फेसबुक व ट्विटर अकाउंट से मचा हडकंप, FIR दर्ज

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *