BHU में फिर हंगामा, जूनियर डॉक्टरों और छात्रों के बीच झड़प के बाद आगजनी

जूनियर डॉक्टरोंजूनियर डॉक्टरों

वाराणसी। सोमवार की देर शाम BHU में एक बार फिर हंगामा देखने को मिला है। यहां अस्पताल में जूनियर डॉक्टरों और एक मरीज के परिजनों के बीच झड़प हुई। जिस पर मरीज के परिजनों ने जमकर बवाल किया। उपद्रव के दौरान गुस्साए लोगों ने बीएचयू कैम्पस में सुरक्षाकर्मियों के चौकी को आग लगा दिया। इस दौरान सर सुंदरलाल चिकित्सालय में अफरा-तफरी मच गई।

करीब आधे घंटे तक परिजनों और जूनियर डॉक्टर के बीच हुई मारपीट के बाद बीच-बचाव करने के लिए बीएचयू प्रॉक्टोरियल बोर्ड और लंका थाने की पुलिस फोर्स मौके पर पहुंची। काशी हिंदू विश्वविद्यालय के सर सुंदरलाल चिकित्सालय में एक महिला अपने परिवार के साथ अपना इलाज कराने आई थी। यहां इलाज में हो रही देरी की वजह से जूनियर डॉक्टर और मरीज के परिजनों के बीच विवाद हो गया।

जूनियर डॉक्टरों ने कामकाज पर किया हड़ताल

BHU में जूनियर डॉक्टरों के साथ हुई मारपीट को लेकर सर सुंदरलाल चिकित्सालय के सभी जूनियर डॉक्टर हड़ताल पर हैं। डॉक्टरों ने हंगामे के विरोध में अपना काम बंद कर दिया है। जहां एक ओर दोनों पक्ष एक दूसरे पर आरोप लगा रहे हैं, तो वहीं दूसरी ओर बीएचयू परिसर का माहौल गर्म होता नजर आया। वहीँ छात्रों का आरोप है कि पिछले साल लड़की के साथ हुए छेड़खानी के सालगिरह पर माहौल खराब करने की कोशिश की गयी है।

ये भी पढ़ें : वाराणसी: होटल के कमरे में हुई 52 वर्षीय ब्रिटिश नागरिक की मौत, पूछताछ जारी 

हालांकि इस पूरे मामले में बीएचयू के छात्रों की संलिप्तता होने की बात पर एसीएम प्रथम प्रेम पांडे ने बताया कि इलाज की जल्दीबाजी को लेकर जूनियर डॉक्टर और एक मरीज के परिजनों के बीच विवाद हो गया। एसीएम का कहना है कि इस पूरे मामले में जांच की जा रही है। पुलिस पता लगा रही है कि मारपीट करने वाले लड़के कौन थे और कहां के थे।

loading...
Loading...

You may also like

बिहार के बाद अब UP NDA में फूट, पीएम के गाजीपुर दौरे में नहीं शामिल होंगे राजभर

बलिया। बिहार में पूर्व केंद्रीय मंत्री और रालोसपा