49 हस्तियों पर दर्ज हुए देशद्रोह के केस को बिहार पुलिस ने बंद करने का आदेश दिया

Loading...

पटना। मॉब लिचिंग के विरुद्ध पीएम नरेंद्र मोदी को ख़त लिखने वाली देश की 49 हस्तियों पर दर्ज हुए देशद्रोह के केस को बिहार पुलिस ने बंद करने का आदेश दिया है। मुजफ्फरपुर एसएसपी मनोज कुमार सिन्हा ने कहा कि जांच में यह पता चलने के बाद कि उनके ऊपर लगाए गए आरोप गलत इरादे से है और सबूतों की कमी है, उसके बाद इस केस को बंद करने का आदेश दे दिया गया है।

यह केस स्थानीय वकील सुधीर कुमार ओझा की ओर से दो महीने पहले दायर की गई एक याचिका पर मुख्य न्यायिक मैजिस्ट्रेट (सीजेएम) सूर्यकांत तिवारी के आदेश के बाद दर्ज हुआ था। ओझा ने बताया था कि सीजेएम ने 20 अगस्त को उनकी याचिका स्वीकार कर ली थी। इसके बाद मुजफ्फरपुर के सदर पुलिस स्टेशन में एफआईआर दर्ज हुई थी।

इससे पहले, कोर्ट के आदेश पर 49 फिल्मी हस्तियों पर एफआईआर दर्ज करने के बाद सदर पुलिस ने गवाहों का बयान दर्ज किया गया। शिकायतकर्ता अधिवक्ता सुधीर कुमार ओझा का भी बयान एसएसपी मनोज कुमार के समक्ष दर्ज किया गया। हालांकि, इस संदर्भ में कोई ठोस जानकारी नहीं दी गई।

यह भी पढ़ें..लॉफ्टर थेरेपी! बीमारियों को छू मंतर करने का अमूल्य ख़ज़ाना

मंगलवार को इस केस के शिकायकर्ता का बयान मुजफ्फरपुर के वरीय पुलिस अधीक्षक के गोपनीय कार्यालय में हुई। एसएसपी के सवालों का जवाब शिकायतकर्ता ने दिया। साथ ही सबूत सौंपे। इससे पहले सोमवार को तीन गवाहों का बयान दर्ज किया गया था।

यह भी पढ़ें..कांग्रेस को भारतीय परंपराओं से समस्या है, खड़गे की ‘तमाशा’ टिप्पणी पर भाजपा का पलटवार

Loading...
loading...

You may also like

दिवाली पर अलग उपायों को करने से बढ़ने लगती है आमदनी, इस बार जरूर अपनाएं

Loading... 🔊 Listen This News दिवाली के दिन