बिजनौर: मंदिरों से लाऊडस्पीकर हटाने पर हिन्दुओं ने छोड़ा गांव, भेदभाव का लगाया आरोप

बिजनौरबिजनौर

बिजनौर। यूपी में हिन्दू परोवारों का पलायन एक बार फिर सुर्ख़ियों में है ताजा मामला सूबे के बिजनौर जिले का है। जहां एक गांव से कुछ हिंदू परिवारों ने पलायन किया है। इसके पीछे पुलिस ने पूजा स्थल से लाउडस्पीकर हटा लिया जाना बताया जा रहा हैं। वहीं घर छोड़ने वाले परिवारों ने इसे सौतेला व्यवहार बताया रहे हैं। दूसरी तरफ पुलिस अपना बचाव करते हुए इसे नियम के तहत कार्रवाई बता रही है।

पढ़ें:- कर्नाटक प्रेस कांफ्रेंस : राहुल ने अपनी मां पर मोदी के हमले का दिया करारा जवाब 

बिजनौर : हिन्दू परिवार एक-एक करके छोड़ रहे हैं अपना घर

जानकारी के मुताबिक बिजनौर के गारवपुर गांव से लोग बैलगाड़ियों और ट्रैक्टर से कई घरों का सामान गांव से बाहर ले जा रहे हैं। यहां पर घरों की दीवारों पर ‘मकान बिकाऊ है’ लिख दिया गया है। वहीं गांव छोड़ने वाले लोग लोगों का कहना है कि वे अब यहां से पलायन कर रहे हैं। आरोप है कि एक हिंदू पूजा स्थल से प्रशासन ने लाउडस्पीकर हटा लिया है और उनके साथ सौतेला व्यवहार किया जा रहा है।

पढ़ें:- भीम आर्मी के जिलाध्यक्ष के भाई की हत्या का मामला, एसपी सिटी समेत 5 के खिलाफ FIR दर्ज 

हिंदुओं की संख्या है इस गांव में कम

बता दें कि बिजनौर के इस गांव में गारवपुर गांव की कुल आबादी करीब 4 हजार है। जिसमें हिंदुओं की तादाद सिर्फ 500 और वहीं मुसलमान साढ़े 3 हजार हैं। पलायन करने वाले हिन्दू परिवारों का कहना है कि स्थानीय पुलिस ने 6 दिन पहले मंदिर से लाउडस्पीकर उतरवाने में एकपक्षीय कार्रवाई की। नाराजगी में इन्होंने अपने घरों पर ‘मकान बिकाऊ है’ के पोस्टर लगा दिए हैं।

हिन्दू परिवारों ने जंगल में डाला डेरा

पुलिस पर आरोप लगाते हुए लोगों ने कहा है कि सबकुछ पुलिस और प्रशासन की जानकारी में हो रहा है और जिले के पुलिस कप्तान नियमों का हवाला दे रहे हैं। बिजनौर एसपी उमेश कुमार सिंह ने कहा कि सबकुछ नियमों के तहत हुआ है। वहीं मामले के तूल पकड़ने पर पुलिस के अधिकारियों ने इन लोगों को 8 तारीख तक विवाद सुलझाने का समय दिया था। लेकिन नाराज परिवारों का आरोप है कि पुलिस ने विवाद सुलझाने में कोई दिलचस्पी नहीं ली। हालांकि पुलिस ने इसे कुछ लोगों की साजिश बताया है।

loading...
Loading...

You may also like

#MeToo : एमजे अकबर से मिलने पहुंचे अजीत डोभाल, मामले की सुनवाई टली

नई दिल्ली। यौन उत्पीडऩ के आरोप मामले में