जन्मदिन विशेष: सचिन तेंदुलकर आज मना रहे है अपना 45वां जन्मदिन

- in खेल, नई दिल्ली
सचिन तेंदुलकरसचिन तेंदुलकर

नई दिल्ली।क्रिकेट के भगवान माने जाने वाले खिलाडी  सचिन तेंदुलकर आज अपना 45वां जन्मदिन सेलिब्रेट कर रहे हैं और इसके साथ ही उनके पास दुनिया भर से बधाईयाँ आ रही हैं, उन्होंने महज 16 वर्ष की आयु में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में कदम रखा था, मास्टर ब्लास्टर खिलाडी सचिन रमेश तेंदुलकर का जन्म 24 अप्रैल 1973 को मुंबई में हुआ था। सचिन के किसी किसी रिकॉर्ड को तोड़ना तो किसी भी खिलाड़ी के लिए आसान कार्य नहीं है। सचिन तेंदुलकर ने क्रिकेट के सभी फॉर्मेट में अपनी प्रतिभा दिखाई है।

सचिन तेंदुलकर ने अपने नाम कई बड़े रिकॉर्ड किये है, और फिलाल वो मुंबई इंडियंस के मेंटर हैं। आज उनकी टीम का मुकाबला सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में खेला जायेगा। दरअसल वानखेड़े स्टेडियम सचिन तेंदुलकर का होम ग्राउंड भी रहा है, ऐसे में सचिन भी इस स्टेडियम में आज मौजूद होंगे। इसका मतलब यह है की आज एक बार फिर से पूरा वानखेड़े स्टेडियम ‘हैप्पी बर्थडे सचिन’ की धुन से गूंज उठेगा।

सचिन तेंदुलकर ने बनाये है यह बड़े रिकार्ड्स

सचिन तेंदुलकर ने 15 नवंबर 1989 में पाकिस्तान के खिलाफ टेस्ट क्रिकेट मुकाबले में डेब्यू किया था। उन्होंने भारत के लिए पूरे 200 टेस्ट खेले हैं, इस दौरान उनके बल्ले से 15,921 रन बने थे। 200 टेस्ट मैच खेलने का रिकॉर्ड अभी तक मास्टर ब्लास्टर सचिन के नाम पर ही है। इसके साथ ही उन्हीं के नाम टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा 51 शतक लगाने का विश्व रिकॉर्ड भी दर्ज हैं। यह रिकॉर्ड तोड़ना तो किसी भी खिलाडी के लिए काफी ज्यादा मुश्किल होगा। टेस्ट क्रिकेट में सर्वाधिक छक्के का रिकॉर्ड भी उन्हीं के नाम पर है।

18 नवंबर 1989 को पाकिस्तान दौरे पर सचिन तेंदुलकर ने वनडे क्रिकेट में भी डेब्यू किया था। मास्टर ने कुल 463 वनडे मैचों में 18,426 रन भी बनाए हैं। उन्होंने इस दौरान 49 शतक जड़े है। वनडे का पहला दोहरा शतक भी तेंदुलकर ने फरवरी 2010 में ग्वालियर में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ जड़ा था। इस फॉर्मेट में सबसे ज्यादा रन और शतक बनाने का विश्व कीर्तिमान भी फिलाल इन्हीं के नाम पर दर्ज है। साथ ही सचिन तेंदुलकर अन्तरराष्ट्रीय क्रिकेट में कुल 100 शतक लगाने वाले विश्व के पहले और अभी तक एक मात्र खिलाडी हैं।

सचिन ने केवल एक ही टी-20 अन्तरराष्ट्रीय मैच खेला है, पर उन्होंने आईपीएल में भी अपनी छाप छोड़ी है। उन्होंने आईपीएल में मुम्बई इंडियंस की ओर से कुल 78 मैच खेले हैं। उन्होंने आईपीएल में 2334 रन बनाए हैं। इस दौरान उन्होंने एक शतक और 13 अर्धशतक मारे हैं।

16 मार्च 2012 को करीब 34 पारियों के बाद मास्टर ब्लास्टर सचिन ने बांग्लादेश के खिलाफ शतकों का शतक लगाया था और इतिहास के पन्ने में अपना नाम दर्ज कर दिया था। शतकों का शतक लगाने वाले सचिन विश्व के पहले खिलाड़ी हैं।

वनडे क्रिकेट में सबसे ज्यादा शतक लगाने का रिकॉर्ड भी उन्ही के नाम पर दर्ज है। इन्होंने वनडे में कुल 49 शतक जड़े हैं। फिलाल भारतीय कप्तान विराट कोहली इन रिकार्ड्स की तरफ तेज़ी से बढ़ रहे हैं।

इस वर्ष सचिन तेंदुलकर ने आईसीसी के महाकुंभ वर्ल्ड कप में भी 673 रन बनाने का तमगा भी प्राप्त किया, नामिबिया के खिलाफ बहतरीन 152 रनों की पारी आजतक की उनकी वर्ल्ड कप की सबसे अच्छी और एहम पारी है। इस वर्ष विजडन ने उन्हें सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी के अवार्ड से सम्मानित भी किया है।

सचिन का क्रिकेटिंग सपना तब जाकर पूरा हुआ जब भारत ने श्रीलंका को विश्व कप के फाइनल में मात दी थी। सचिन तेंदुलकर ने 2011 विश्व कप में भारत की ओर से सबसे अधिक 483 रन बनाए थे। जानकारी के लिए बता दे की इसी विश्व कप से ही सचिन ने सबसे ज्यादा वनडे मैच खेलने वाले खिलाड़ी का रिकॉर्ड बनाया था।

यह भी पढ़े:मध्य प्रदेश में मॉडल की स्कर्ट खीचने का हुआ प्रयास, मुख्यमंत्री शिवराज ने दिए जांच के आदेश

loading...
Loading...

You may also like

निर्भया कांड:घिनौने हैवानियत को बयान करता ये नंबर DL 1PC 0149

नई दिल्ली। 16 दिसंबर 2012 को एक ऐसी