बीजेपी-कांग्रेस की नयी राजनीतिक चाल, ‘डिनर-डिप्लोमेसी’ से बिछा रहे जाल

बीजेपी-कांग्रेसबीजेपी-कांग्रेस

नईदिल्‍ली। राजनीतिक मैदान में फेरबदल करने में बीजेपी-कांग्रेस का समीकरण का अंदाजा लगा पाने बहुत कठिन है। बीते दिनों जहां एक ओर पूर्वोत्तर के राज्यों में बीजेपी बड़ी जीत के साथ मजबूत नजर आ रही है। वहीं दूसरी ओर कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है। ऐसे में कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी एक बार फिर राजनीति दाव खेलने जा रहीं हैं। दोनों पार्टियां “डिनर-डिप्लोमेसी” के जरिये आगे की रणनीति तैयार करेगी।

ये भी पढ़ें:इस राज्य में सत्ता से बेदखल होगी भाजपा, कांग्रेस की होगी सरकार में वापसी 

बीजेपी-कांग्रेस की नयी राजनीतिक चाल, ‘डिनर-डिप्लोमेसी’ से बिछा रहे जाल

सोनिया गांधी राजनीति में कमबैक करते हुए पार्टी के बड़े नेताओं के साथ डिनर पार्टी का आयोजन करते नजर आ रहीं हैं। तो वहीँ पीएम मोदी भी बीजेपी नेताओं के साथ डिनर पार्टी करेंगे। एक तरफ विपक्ष बीजेपी को मात देने के लिए एकजुट होने की तयारी कर रहा है। तो दूसरी ओर बीजेपी देश में 21 राज्यों पर सत्ता जमाने के बाद अन्य राज्यों के लिए जोश जुटा रहा है। बता दें कि राहुल गांधी के अध्यक्ष बनने वाले दिन सोनिया ने कहा था कि अब राहुल उनके भी बॉस हैं। लेकिन मौजूदा हालत को देखते हुए सोनिया एक बार फिर पार्टी के लिए म्हणत करते नजर आ रहीं हैं।

बीजेपी संसदीय दल की बैठक में निर्णय

देश की सबसे बड़ी पार्टी भाजपा ने डिनर डिप्लोमेसी का निर्णय मंगलवार को हुए बीजेपी संसदीय दल की बैठक में लिया है। दिल्ली में आयोजित संसदीय दल की बैठक में बीजेपी के सभी वरिष्ठ नेताओं ने शिरकत की। जहां पूर्वोतर के राज्यों में जीत के लिए जश्न मनाया गया। बैठक में मोदी और आडवाणी ने एक दुसरे को मिठाई खिलाया। जिसके साथ ही पार्टी के नेताओं ने “जीत हमारी जारी है, अब कर्नाटक की बारी है” का नारा भी दिया। साल 2018 में ही कर्नाटक में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। पूर्वोत्‍तर के तीन राज्‍यों में मिली ऐतिहासिक जीत से भाजपा के हौसले बुलंद हो गए हैं।

loading...
Loading...

You may also like

दिल्ली सरकार पर एनजीटी ने ठोका 50 करोड़ का जुर्माना

नई दिल्ली। दिल्ली में बढ़ते प्रदूषण की गाज