सपा के यादव वोट बैंक पर भाजपा की नजर, डिप्टी सीएम बोले- ये अंदर की बात है..

वोट बैंकवोट बैंक

लखनऊ। लोकसभा चुनाव को लेकर राजनीतिक पार्टियों की बयानबाजी से ऐसा लगता है कि इस बार चुनाव मुद्दों पर नहीं बल्कि धर्म और जाति के मुद्दे पर लड़ा जायेगा। इस क्रम में भाजपा ने जातीय समीकरण को लेकर अपनी तैयारियां शुरू कर दी है। भाजपा की नजर अब सपा के सबसे बड़े वोट बैंक ‘यादव समाज’ पर है इसके संकेत खुद डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने दिए हैं।

वोट बैंक की रणनीति तैयार करने में जुटी भाजपा

यूपी के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि यादव समाज भाजपा के साथ है। उनकी पार्टी के पास पिछड़े वर्ग का सबसे शानदार गुलदस्ता है। उन्होंने कहा कि हमारे पास पीएम नरेंद्र मोदी हैं। उनके विधायक व नेता बड़ी संख्या में पिछड़े वर्ग के हैं।

मौर्य ने कहा कि यूपी की 54 फीसदी जनसंख्या पिछड़े वर्ग की है। पिछले वर्ग को संवैधानिक दर्जा देकर सरकार ने इस वर्ग का सम्मान किया है। उन्होंने कहा कि ये अंदर की बात है कि यदुवंशी समाज हमारे साथ है।

पढ़ें:- सपा नेता की गोली मारकर हत्या, पत्नी ने हत्यारे को भागने में की मदद 

एससी-एसटी एक्ट पर डिप्टी सीएम का बयान

वहीं एससी-एसटी एक्ट से सवर्णों की नाराजगी की बात को गलत बताते हुए मौर्या ने कहा कि सरकार कानून का दुरुपयोग नहीं होने देगी। जो भी एससी-एसटी से जुड़े लोगों का उत्पीड़न करेगा वो कार्रवाई से बच नहीं पाएगा। बता दें कि केशव मौर्य शनिवार को लखनऊ के गोमती नगर में आयोजित कार्यकर्ता सम्मेलन में पत्रकारों से बात कर रहे थे।

इस दरौन उन्होंने समाज को बांटने के आरोपों को निराधार बताया है। कहा कि सपा-बसपा व कांग्रेस ने दूध में नींबू मिलाने का काम किया लेकिन हमने तो दूध में चीनी मिलाने का काम किया है।

loading...
Loading...

You may also like

कांग्रेस की दूसरी सूची जारी, जसवंत सिंह के बेटे को उतारा वसुंधरा के खिलाफ

नई दिल्ली: राजस्थान चुनाव में इस बार बीजेपी