भारतीय सेना के बम निरोधक दस्ते ने जमीन में दबे सक्रिय बमों को किया निष्क्रिय

लखनऊ। मध्य कमान की काउन्टर एक्सप्लोजि़व डिवाइस यूनिट के बम निरोधक दस्ते द्वारा स्थानीय प्रशासन के सहयोग के तहत जिला उधम सिंह नगर के जसपुर गांव में 14व शों में जमीन में गड़े 555 सक्रिय बमों को किया निष्क्रिय । इस जोखिम भरे व चुनौतीपूर्ण कार्य को सुरक्षित तरीके से पूरा करने के लिए विग्त 12 अक्टूबर 2018 से बमों एवं विस्फोटकों को निष्क्रिय करने का कार्य शुरू किया गया जो 21 अक्टूबर 2018 सफलतापूर्वक पूरा कर लिया गया।

ये भी पढ़ें:- उत्तर प्रदेश के राज्यपाल ने महाराष्ट्र के साईकिल दल को झण्डी दिखाकर किया रवाना 

इस बम निरोधक दस्ते ने उधम सिंह नगर में फीका नदी के किनारे तथा हाजिरो गॉव निकट 10 दिनों इन बमों एवं विस्फोटकों को निष्क्रिय करने का कार्य किया। बम निरोधक दस्ते में एक सैन्य अधिकारी सहित एक जूनियर कमीशन्ड अधिकारी और 12 जवान शामिल थे। गौर करने वाली बात तो ये है कि वर्ष 2004 में इराक से 16 कन्टेनर लाये गये थे जिसमें से एक या दो कन्टेनरों में अतिविस्फोटक एवं खतरनाक सामग्री मौजूद थी। इन कबाड़ों में 555 सक्रिय एवं अविस्फोटित बम एवं विस्फोटक सामग्री शामिल था जो खाड़ी युद्ध के कार्यकाल के थे। इन विस्फोटकों को एसडी स्टील फैक्टरी काशीपुर द्वारा दिल्ली स्थित तुगलकाबाद के कबाड़ डीलर से लाया गया था।

ये भी पढ़ें:- टप्पेबाजों ने प्रापर्टी डीलर की फॉर्च्यूनर से पार किया रुपयों से भरा ब्रीफकेस 

दिसम्बर 2004 में एसडी स्टील फैक्टरी में विस्फोट के दौरान फैक्टरी के मजदूरो की मृत्यु हो गई थी और मजूदर घायल हो गये थे। फलस्वरूप, इसके बाद इन अविस्फोटित व निष्क्रिय बमों एवं विस्फोटकों को जमीन के अंदर गाड़ दिया गया था। नागरिक प्रशासन द्वारा मुख्यालय मध्य कमान को इन बमों एवं विस्फोटकों को सुरक्षित तरीके से निष्क्रीय करने के लिए आग्रह किया गया था ।

ये भी पढ़ें:- ब्लॉक स्तरीय बेसिक बाल क्रीड़ा प्रतियोगिता का हुआ आयोजन 

बम निरोधक दस्ते द्वारा बमों को छोटे-छोटे हिस्सों में विस्फोट कर इसे निष्क्रिय किया गया जिससे उस इलाके के निवासियों तथा वन्य जीवों एवं संपत्ति को कोई क्षति न हो सके । इस कार्य को बहुत ही सुरक्षित एवं योजनाबद्ध तरीके से काउन्टर एक्सप्लोसिव डिवाइस यूनिट के कमान अधिकारी कर्नल विनय बहल के निर्देषन में पूरा किया गया। काउन्टर एक्सप्लोसिव डिवाइस यूनिट ऐसे जोखिमभरे खतरों से निपटने के लिए अपने बम निरोधक उपकरणों के साथ सेवा के लिए सदैव तैयार रहती है।

loading...
Loading...

You may also like

भगवान हनुमान और अम्बेडकर प्रतिमा हटाये जाने पर ग्रामीण हुए उग्र

लखनऊ। माल इलाके में बिना परमीशन के पंचायत