बीएसएफ जवान ने पीएम मोदी के नाम से पहले नहीं लगाया श्री, काट ली गयी जवान की सैलरी

बीएसएफ
Please Share This News To Other Peoples....

कोलकाता। अपनी जान की परवाह किये बिना देशवासियों की रक्षा के लिए तैनात रहने वाले बीएसएफ के एक कॉन्स्टेबल को पीएम मोदी के नाम से पहले माननीय और श्री नहीं लगाने की कीमत चुकानी पडी। जवान की सैलरी से 7 दिन का पैसा काट लिया गया। कहा जा रहा है कि उस जवान को फोर्स ने इसे पीएम के प्रति अपमानजनक मानते हुए यह सजा दी। जानकारी के मुताबिक ये घटना 21 फरवरी की पश्चिम बंगाल के नादिया के महतपुर की 15 बीएसएफ बटालियन हेडक्वॉर्टर की है।

पढ़ें:-बीजेपी-कांग्रेस की नयी राजनीतिक चाल, ‘डिनर-डिप्लोमेसी’ से बिछा रहे जाल 

बीएसएफ जवान ने एक कार्यक्रम में मोदी के नाम से पहले नहीं लगाया श्री

जानकारी के मुताबिक 21 फरवरी को दैनिक परेड कार्यक्रम के दौरान कॉन्स्टेबल संजीव कुमार ने एक कार्यक्रम का उल्लेख करते हुए मोदी प्रोग्राम बोला था।’ जिस पर वहां मौजूद वरिष्ठ अधिकारियों ने तुरंत इस घटना पर एक्शन लेते हुए उसकी सैलरी काटने का फैसला सूना दिया। अधिकारियों ने कॉन्स्टेबल को समन जारी किया और जांच में आरोपी कॉन्स्टेबल को पीएम के नाम के पहले सम्मानसूचक शब्द नहीं लगाने का दोषी पाया गया।

बीएसएफ ऐक्ट के सेक्शन 40 के तहत मिली सजा

कमांडिंग ऑफिसर अनूप लाल भगत ने इस मामले पर अनुशासनात्मक कार्रवाई करते हुए कॉन्स्टेबल कुमार को बीएसएफ ऐक्ट के सेक्शन 40 के तहत दोषी करार दिया। वरिष्ठ अधिकारियों का भी मानना है कि जवान को मामूली भूल के लिए काफी कठोर सजा दी गई।

Related posts:

शाह की कंपनी में 51 करोड़ की राशि विदेशों से आई : राज बब्बर
भ्रष्टाचार का आरोप लगाने वाली बीजेपी है सबसे भ्रष्ट पार्टी: राहुल गांधी
111 फैमिली कोर्ट की हो रही शुरुआत: सीएम योगी
इस बीजेपी नेता ने राष्ट्रपति के फैसले को बताया तुगलकशाही...
मानव तस्करी मामला : दलेर मेहंदी को मिली दो साल सजा 20 मिनट में पूरी
अररिया में देश विरोधी नारेबाजी के पीछे बीजेपी की साजिश : राजद
गठबंधन में आ सकती है खटास, बसपा नेता का हत्यारा निकला सपाई
उन्नाव गैंग रेप में हाईकोर्ट ने स्वतः संज्ञान लिया, पहली सुनवाई 12 को
तोगड़िया का अनिश्चितकालीन अनशन 48 घंटे में खत्म, अब करेंगे भारत भ्रमण
मोदी ने जम्‍मू-कश्मीर हाइड्रोपावर प्रोजेक्‍ट का किया उद्घाटन, पाक में भारी विरोध
केंद्र सरकार के चार साल पूर्ण होने पर सिद्धार्थनगर में निकली बाइक रैली
सीएम योगी आदित्यनाथ का ओएसडी बनकर लोगों से ऐठते थे रूपए

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *