BSP कार्यकर्ताओं ने बाबा साहब के 63वें परिनिर्वाण दिवस पर दी श्रृदांजलि

लखनऊ। भारतीय संविधान के प्रमुख निर्माता बाबा साहब डॉ. भीमराव अम्बेडकर के 63वें परिनिर्वाण दिवस पर प्रदेश भर में आठ लाख आरक्षण समर्थक कार्मिक ने बाबा साहब के परिनिर्वाण दिवस पर श्रद्धा सुमन अर्पित कर उन्हें नमन किया। इस शुभ अवसर पर आरक्षण बचाओ संघर्ष समिति संयोजक मण्डल द्वारा प्रात: 8 बजे बाबा साहब सामाजिक परिवर्तन प्रतीक स्थल, गोमती नगर में डॉ. भीमराव अम्बेडकर को श्रद्धासुमन अर्पित किया। यहां श्रद्धांजलि सभा में प्रदेश के विभिन्न जिलों से हजारों की संख्या में बसपा (BSP) कार्यकर्ता आये हुए थे। वहीं अंबेडकर पार्क में श्रदांजलि सभा का आयोजन में बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के तमाम बड़े नेताओं के साथ BSP कार्यकर्ताओं ने उन्हें श्रृदांजलि दी। विभिन्न जिलों से आये कार्यकर्ता नीले रंग में रंगे हुए नजर आ रहे थे। बड़ी संख्या में BSP कार्यकर्ता भी अंबेडकर पार्क में मुखौटे लगाए हुए थे तो कई ने अपने चेहरे पर पेंटिंग करा रखी थी।

अखिलेश-मुलायम दिखेंगे साथ, जनसभा को करेंगे संबोधित

इस दौरान बसपा के प्रदेश अध्यक्ष आरएस कुशवाहा ने बाबा साहब के बताये रास्ते पर चलने का आवाहन किया। BSP कार्यकर्ता जय भीम के नारे लगाते नजर आ रहे थे। इस दौरान अम्बेडकर पार्क में कार्यताओं में काफी उत्साह देखने को मिला। कार्यकर्ता मायावती द्वारा बनवाये गए इस पार्क में सेल्फी लेते दिखाई दिए। इस दौरान बसपा नेता नकुल दुबे सहित कई नेताओं ने वहां मौजूद बौद्ध भिक्षुओं को भिक्षा दी। नेताओं ने बसपा को 2019 में चुनाव जितवाने का भी एलान किया। वहीं, आरक्षण बचाओ संघर्ष समिति के संयोजकों अवधेश कुमार वर्मा, आरपी केन, अनिल कुमार, अजय कुमार, अन्जनी कुमार, प्रेम चन्द्र, रंजीत कुमार, दिनेश कुमार, जय प्रकाश, आनन्द कनौजिया सुनील कनौजिया ने कहा कि इस अवसर पर पूरे प्रदेश के सभी संयोजकों को यह निर्देश दिये गये हैं कि वह बाबा साहब के बताये हुए रास्ते पर चलने के लिये समाज को जागरूक करें।

मायावती ने दलित पुजारियों की मांग को लेकर भाजपा पर साधा निशाना 

जिस प्रकार से आरक्षण विरोधी ताकतें बाबा साहब के नाम समाज को गुमराह कर रही हैं। उसके लिये सभी आरक्षण समर्थकों का यह कर्तव्य है कि वह बहुजन समाज को गुमराह होने से बचायें। उन्होंने कहा कि डॉ. भीमराव अम्बेडकर द्वारा बनायी गयी संवैधानिक व्यवस्था की रक्षा करने के लिये देश का आरक्षण समर्थक हर कुर्बानी देने के लिये तैयार रहेगा। बाबा साहब की बदौलत ही आज पूरे देश में बहुजन समाज को इज्जत, प्रतिष्ठा, शिक्षा और सम्मान मिला है, इसे पूरे देश के बहुजन समाज को बचा के रखना है।

loading...
Loading...

You may also like

ईएसआइसी अस्पताल में लगी आग, 147 से ज्यादा घायल, 6 की मौत

मुंबई। मुंबई के अंधेरी स्थित ईएसआइसी (ESIC)  कामगार