चुनाव में समाज के मुद्दों पर मतदाताओं को जागरूक करने के लिए चलाया गया अभियान

Please Share This News To Other Peoples....
बस्ती। नगर पालिका परिषद, निकाय चुनाव में मतदाताओं को जागरूक करने के लिये पर्यावरण चेतना समिति की ओर से जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है। नगर पालिका क्षेत्र के सभी 25 वार्डो में अपील वितरित कर लोगों का ध्यान सडक़, सफाई, स्वच्छता आदि पर केन्द्रित किया गया है। पर्यावरण चेतना समिति के अध्यक्ष पं. सुनील कुमार भट्ट, मंत्री गौहर अली, हाजी मो0 आलम की ओर से वितरित किये जा रहे
जागरूकता पत्र में कहा गया है कि बस्ती नगर पालिका गठन के 65 वर्ष का लम्बा वक्त गुजर गया इसके बाद भी सीवर लाइन, नालियों, सडक़, खण्डजा, आर.सी.सी. सडक़ के साथ ही बुनियादी मसलों पर जो व्यवस्थित कार्य होना था वह नहीं हो सका। वादे खूब हुये, स्वच्छ बस्ती, सुन्दर बस्ती का नारा भी दिया गया किन्तु 8 किलोमीटर के शहर और 25 वार्डो के मुहल्लों को हम बेहतर स्वरूप दे पाने में अब तक इसलिये नाकाम रहे कि विकास कार्य बिना सोचे समझे, मानक विहीन और जैसे-तैसे कराये गये। यहां तक कि पौधरोपण की बातें हुई किन्तु नगर पालिका परिषद की ओर से जो पौधे रोपित हुये उनमें से शायद ही कोई जिन्दा हो।
पर्यावरण चेतना समिति द्वारा इस वर्ष 2017 में शहर को हरा भरा रखने के लिये संख्या की दृष्टि से देखें तो मात्र 100 पौध रोपे गये,  उनमें से अधिकांश जीवित हैं और वह दिन दूर नहीं जब भीषण गर्मी में लोग उन वृक्षों के नीचे छाया प्राप्त कर सकेंगे। इन दिनों प्रत्याशी वायदों की बौछार कर रहे हैं। किन्तु शायद ही किसी प्रत्याशी ने अपना सुव्यवस्थित घोषणा पत्र जारी किया हो। समिति की ओर से नगर पालिका की समस्याओं और समाधान को लेकर महत्वपूर्ण विन्दु भी जारी किये गये हैं। जिनमें सीवर लाइन को व्यवस्थित कर जल शोधन के बाद ही उसे नदियों, तालाबों में गिराया जाने, जन सहयोग से शहर को पालीथीन मुक्त कर कूडा निस्तारण और संभव हो तो उससे बिजली उत्पादन का संयत्र लगवाया जाने, वार्डो में साफ-सफाई की समुचित व्यवस्थित और जनता के बीच से निगरानी समितियों का गठन किया जाने, निर्माण कार्यो में बंदरबांट का सिलसिला बंद करने,  पार्कों को इस स्वरूप में विकसित किया। जिससे हवा, बेहतर वातावरण मिले, शहर में खाली पडी जमीनों पर इस तरह से पौधरोपण कराया जाय। जिससे लोगों को अच्छा वातावरण मिले।
शहर में व्यवस्थित पेयजल सुविधा, प्रकाश व्यवस्था का प्रबंधन किये जाने, प्रत्येक तीन माह पर 25 वार्डो के निगरानी समिति के लोगों की बैठक कर उनसे सुझाव लिये जाने, शहर में जाम की समस्या से निजात पाने हेतु राज्य और केन्द्र सरकार से आग्रह कर उपयुक्त  स्थानों पर फ्लाई ओवर का निर्माण कराने, स्वच्छता के लिये जन-जन को प्रेरित कर बेहतर कार्य करने वाले सफाई कर्मियों को समारोहपूर्वक  सम्मानित किया जाने, आवारा पशुओं से मुक्ति के लिये उन्हें गोशाला में भेजा जाने, सूअरबाडों को शहर से बाहर किया जाने, रात्रि में 10 बजे के बाद डीजे पर प्रतिबंध लगाया जाने आदि की मांग और सुझाव शामिल है।
loading...

One thought on “चुनाव में समाज के मुद्दों पर मतदाताओं को जागरूक करने के लिए चलाया गया अभियान”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *