कोर्ट के आदेश के बाद दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज, अब मिल रही है धमकियां

- in क्राइम, लखनऊ
फांसी

लखनऊ। सरोजनी नगर में करीब दो माह पहले एक दुष्कर्म के आरोपी ने अपने साथियों के साथ मिलकर पीड़ित युवती के ऊपर मुकदमा वापस लेने का दबाव बनाया। पीड़िता ने विरोध किया तो आरोपी ने उसे और उसकी मां को जान से मारने की धमकी दी।

पीड़ित ने संबंधित थाने के अलावा वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक से इसकी शिकायत की, लेकिन बावजूद आरोपी खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हो सकी। परेशान पीड़िता ने बाद में न्यायालय की शरण ली। जिसके तहत न्यायालय के आदेश पर शनिवार को सरोजनीनगर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।

ये भी पढ़ें:- महिला ने डायल 100 पर तैनात एचसीपी पर लगाए ये गंभीर आरोप 

सरोजनीनगर में रहने वाली युवती के मुताबिक वर्ष 2017 में अवध विहार कॉलोनी निवासी उसके पड़ोसी ने उसके साथ जबरन दुष्कर्म किया था। जिसके बाद पीड़िता ने आरोपी राकेश सिंह उर्फ आयुष के खिलाफ दुराचार और पास्को एक्ट के तहत सरोजनीनगर थाने में मुकदमा दर्ज कराया था।

पीड़ित युवती का कहना है कि बीती 18 नवंबर 2018 को आरोपी राकेश ने अपने अज्ञात साथी के साथ मिलकर उस पर मुकदमा वापस लेने का दबाव बनाया। जब पीड़िता ने विरोध किया तो आरोपी ने अपने साथी के साथ मिलकर उसे और उसकी मां को जान से मारने की धमकी दी।

पीड़ित युवती का कहना है कि इस घटना को लेकर उसने उसी दिन सरोजनीनगर थाने में शिकायत की, लेकिन पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की। कोई कार्रवाई ना होते देख 22 नवंबर को उसने इसकी शिकायत वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक से की, लेकिन इसके बावजूद आरोपी के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हुई। जिससे परेशान होकर बाद में उसने न्यायालय की शरण ली।

फिलहाल न्यायालय के आदेश पर सरोजनीनगर पुलिस ने शनिवार को आरोपी राकेश के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।

Loading...
loading...

You may also like

Loksabha Election 2019 : Congress से नाराज़ हैं राहुल के करीबी, जल्द हो सकते हैं BJP में शामिल

🔊 Listen This News लखनऊ। कांग्रेस के दिग्गज