परिवारवाद और प्रमोशन में आरक्षण को लेकर चन्द्रशेखर का मायावती पर बड़ा हमला

मायावती पर बड़ा हमलामायावती पर बड़ा हमला
Loading...

लखनऊ। भीम आर्मी संस्थापक चन्द्रशेखर आजाद ने बसपा सुप्रीमो मायावती पर बड़ा हमला किया है। चन्द्रशेखर ने मायावती के एक ट्वीट के बाद निशाना साधते हुए कहा कि मैंने चुनाव के पहले ही कई बार कहा था कि प्रमोशन में आरक्षण पर समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव को भी अपना रुख स्पष्ट करना चाहिए, लेकिन तब बसपा प्रमुख ने मेरा समर्थन नहीं किया। क्योंकि तब सपा और बसपा मिलकर चुनाव लड़ रही रही थी।

अब जब चुनावों में बसपा की हार हो चुकी और सपा से गठबंधन खत्म हो चुका है तो एक बार फिर से मायावती को प्रमोशन में आरक्षण की याद आई है। भीम आर्मी प्रमुख ने कहा कि बहुजन समाज अब मायावती के बहकावे में नहीं आने वाला। क्योंकि उनकी हकीकत जनता के सामने उजागर हो चुकी है।

पीएम मोदी बोले- ये इमरजेंसी नहीं कि किसी को भी जेल भेज दिया जाए

बता दें कि 23 जून को मायावती ने सपा से गठबंधन खत्म करने का ऐलान करते हुए कहा था कि हमने जनता व देश की भलाई के लिए सपा के साथ गठबंधन किया था। हमने अखिलेश यादव सरकार के बसपा और प्रमोशन में आरक्षण विरोधी कार्यों को भुलाकर यह गठबंधन किया था। लेकिन सपा ने गठबंधन धर्म ईमानदारी से नहीं निभाया।

चन्द्रशेखर ने मायावती पर परिवारवाद का आरोप लगाकर भी करारा हमला किया है। मायावती द्वारा पार्टी में अपने भाई और भतीजे को अहम जिम्मेदारी देने के तुरंत बाद भीम आर्मी प्रमुख चन्द्रशेखर ने ट्वीट कर कहा था कि कांशीराम राजकुमार बनाने के लिए राजनीति नहीं करते थे बल्कि रजवाड़ों को खत्म करने के लिए जीवन भर संघर्ष करते रहे। दबे-कुचले बहुजन समाज के लोगों को राजनीति में लाने और ऊपर उठाने के लिए उन्होंने बसपा की स्थापना की थी। चन्द्रशेखर ने कहा कि वह चाहते तो अपनी विरासत परिवार को दे सकते थे लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया।

Loading...
loading...

You may also like

बीजेपी की संसदीय दल की बैठक में पीएम सहित शामिल कई नेता

Loading... 🔊 Listen This News नई दिल्ली। bjp