Main Sliderउत्तर प्रदेशराजनीतिराष्ट्रीयलखनऊ

मुख्यमंत्री योगी ने मुस्लिम धर्मगुरूओं से की अपील, घर पर ही मनायें ईद और पढ़ें नमाज

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मुस्लिम धर्मगुरूओं से अपील की है कि लोग लाॅकडाउन तथा सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए घर पर ही ईद मनाएं और नमाज पढ़ें।

अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने शनिवार को पत्रकारों को बताया कि ईद के पावन पर्व पर श्री योगी ने मुस्लिम धर्मगुरूओं से अपील की है कि वे समुदाय के लोगों से ईद घर पर ही मनाने को कहें ताकि कोरोना संक्रमण के प्रसार से बचा जा सके।

मुख्यमंत्री ने निर्देश दिये हैं कि क्वारंटीन सेंटर में प्रवासी कामगारों एवं श्रमिकों की स्किल मैपिंग की जाए ताकि होम क्वारंटीन पूर्ण करने के बाद उनके रोजगार की व्यवस्था की जा सके। इसके तहत पात्र एवं इच्छुक लोगों के जाॅब कार्ड तैयार किये जाने के भी निर्देश दिए गए हैं।

मौलाना अंसार अहमद क़ासमी का पैगाम, बोले-ईद की नमाज घर पर पढ़ें

उन्होने कहा कि सभी बड़े प्रोजेक्ट यथा गंगा एक्सप्रेस-वे आदि के कार्यों में तेजी लाई जाए। उन्होंने बताया कि गंगा एक्सप्रेस-वे की निर्माण लागत 20,924 करोड़़ रूपए तथा भूमि अधिग्रहण पर लगभग 9000 करोड़ रूपए का व्यय अनुमानित है। 16 लेन का यह एक्सप्रेस-वे मेरठ से प्रयागराज को जोड़ेगा। पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का कार्य तेजी से चल रहा है। इस पर 5535 श्रमिक एवं 1144 इंजीनियर तथा 3127 बड़ी मशीनें कार्य कर रही हैं।

इसी प्रकार बुंदेलखण्ड एक्सप्रेस-वे के निर्माण कार्य में 2348 श्रमिक, 625 इंजीनियर व 2370 बड़ी मशीनें कार्य कर रही हैं। इस प्रोजेक्ट पर 296 किमी सड़क तथा 200 से अधिक मिट्टी का कार्य चल रहा है। गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस-वे के निर्माण का कार्य प्रारम्भ कर दिया गया है।

यूपी आज नहीं दिखा चांद, अब 25 मई को मनाई जाएगी ईद

मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए हैं कि लाॅक डाउन के नियमों का सख्ती से पालन किया जाये। प्रभावी पेट्रोलिंग करते हुए यह सुनिश्चित किया जाए कि कहीं भी भीड़ एकत्र न होने पाए। कन्टेनमेंट जोन में आवश्यक वस्तुओं की होम डिलीवरी व्यवस्था सुचारू रूप से सुनिश्चित की जाए। एक्सप्रेस-वे पर पेट्रोलिंग बढ़ाई जाए तथा एम्बुलेंस की व्यवस्था भी सुनिश्चित की जाए। उन्होंने कहा है कि एन-95 मास्क एवं पीपीई किट को दोबारा इस्तेमाल किये जाने की संभावनाएं तलाशी जाएं। अस्पतालों में जनरल ओपीडी सेवाओं को छोड़कर, संक्रमण से सुरक्षा सम्बंधी सभी उपाय लागू करते हुए इमरजेंसी सेवाओं का संचालन तथा जरूरी आपरेशन की कार्रवाई सुनिश्चित की जाय।

प्रदेश में अब तक 1269 ट्रेन के माध्यम से लगभग 17.47 लाख से अधिक प्रवासी कामगार एवं श्रमिक को लाये जाने की व्यवस्था की गई है, इनमें से अब तक 1018 ट्रेन से 13.54 लाख लोगों को प्रदेश में लाया जा चुका है। अगले 24 घंटे में 178 ट्रेन और प्रदेश में आ जायेगी। उन्होंने बताया कि 25 मई से प्रारम्भ होने वाली घरेलू उड़ानों के लिये यात्रियों के लिए शीघ्र गाईडलाइन जारी की जायेगी

loading...
Loading...