मुख्यमंत्री योगी की सुरक्षा में बड़ी चूक, खेत में उतारना पड़ा हेलिकॉप्टर

मुख्यमंत्रीमुख्यमंत्री

आगरा। कड़ी सुरक्षा में स्थानों का दौरा करने वाले उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सुरक्षा में बदिन लापरवाही का मामला सामने आया है। प्रशासन द्वारा बनाए गए हैलीपेड का स्थान गलत देख पायलट ने दूसरे स्थान पर मुख्यमंत्री के हेलिकॉप्टर को लैंड कराया गया। पायलट ने अपनी समझ-बुझ का प्रमाण देते हुए हेलिकॉप्टर को सुरक्षित खेत में उतार दिया। खेत में हेलिकॉप्टर उतरता देख आस पास के ग्रामीणों ने भीड़ जुटा ली। सीएम योगी कासगंज में तूफ़ान पीड़ितों की मदद करने पहुंचे थे। यह माजरा देख एडीजी आगरा अजय आनंद और डीएम आरपी सिंह समेत अफसरों के माथे पर पसीना आ गया।

मुख्यमंत्री योगी का हेलिकॉप्टर खेत में उतारा गया

कासगंज में तूफ़ान पीड़ितों की मदद करने पहुंचे योगी आदित्यनाथ के सुरक्षा में बड़ी लापरवाही का मामला सामने आया है। यहां सीएम योगी के हेलिकॉप्टर को खेत में उतारा गया। हेलीपैड निर्माण में खामी भांपकर पायलट ने सूझबूझ का परिचय देते हुए पास के खेत में सुरक्षित हेलीकॉप्टर उतारा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का हेलीकॉप्टर 10 बजकर 49 मिनट पर हैलीपेड पर उतरने वाला था,लेकिन हेलीपैड निर्माण में खामी भांपकर पायलट ने सूझबूझ का परिचय देते हुए पास के खेत में सुरक्षित हेलीकॉप्टर उतारा। हेलीकॉप्टर देखने के लिए भीड उमड़ पड़ी। यह देख एडीजी आगरा अजय आनंद और डीएम आरपी सिंह समेत अफसरों के माथे पर पसीना आ गया। अफसरों ने हेलीकॉप्टर उतरने वाले खेत की ओर दौड़ लगा दी।

ये भी पढ़ें: कर्नाटक चुनाव रुझानो पर कांग्रेस नेता अशोक गहलोत ने दिया चौकाने वाला बयान 

काफी देर तक हवा में रहा हेलिकॉप्टर

निर्धारित कार्यक्रम के मुताबिक सीएम योगी दिल्ली से हेलीकाप्टर से कासगंज के लिए रवाना हुए। प्रशासन ने सोरों नुमाइश स्थल पर हेलीपैड बनवाया था। सीएम का हेलिकॉप्टर सोरों पहुंचा तो लेकिन लैंड नहीं कर पा रहा था। काफी देर तक हवा में हेलिकॉप्टर चक्कर काटता रहा। बताया गया कि तकनीकि कारण से ऐसा हुआ।

 

योगी के हैलीपैड मामले में तीन इंजीनियर सस्पेंड

इस मामले में तीन इंजीनियरों पर कार्रवाई की गई है। इसके साथ ही शासन ने इसे सीएम सुरक्षा में चूक मानते हुए रिपोर्ट तलब की है। कासगंज के अधिशासी अभियंता, अवर अभियंता और सहायक अभियंता को तत्काल प्रभाव से निलम्बित कर दिया गया है। इधर, प्रमुख सचिव गृह अरविंद कुमार ने सुरक्षा मुख्यालय से पूरे मामले में रिपोर्ट भी मांगी है। एडीजी सुरक्षा से सीएम सुरक्षा में हुई चूक पर रिपोर्ट देने के निर्देश दिए गए हैं।

इसमें यह भी जानकारी मांगी गई कि हेलीपैड पर हेलीकाप्टर किन परिस्थितयों में नहीं उतर पाया? इस पर विस्तृत ब्यौरा दें। सीएम योगी मंगलवार को कासगंज में हादसा प्रभावितों से मिलने जाने वाले थे। वहां उनके हेलीकाप्टर उतरने के लिए हेलीपैड बना लेकिन इसमें तकनीकी दिक्कत होने के चलते हेलीकाप्टर पायलट ने निर्धारित हेलीपैड पर उतरने से इंकार कर दिया। उसके बाद पायलट ने एक किमी दूर एक खेत में सीएम का हेलीकाप्टर उतारा। वहां वेरिकेडिंग आदि न होने के चलते भारी भीड़ उमड पड़ी और सीएम की सुरक्षा को लेकिर खासी मुश्किलें आईं। स्थानीय अधिकारियों को पूरी व्यवस्था करने में खासी मशक्कत करनी पड़ी।

loading...
Loading...

You may also like

सिपेट कॉलेज पर कृष्ण के पिता ने लगाया लापरवाही का आरोप, छात्रों ने मचाया हँगामा

लखनऊ। सरोजनीनगर के नादरगंज स्थित सिपेट कॉलेज में