न चाहते हुए भी तेजस्वी को सीएम नीतीश को कहना पड़ा धन्यवाद, जानिए पूरा मामला

- in ख़ास खबर, राजनीति
सीएम नीतीश कुमारसीएम नीतीश कुमार

पटना। बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने वंशवाद के जरिए राजनीति में कदम रखने युवा नेताओं पर हमला बोला है। नीतीश ने कहा कि आज के युवा नेताओं में वो दम नहीं है। जैसा उनके जमाने के छात्र आंदोलनों में हुआ करता था। भले ही उन्होंने अपने इस बयान में किसी नेता का नाम न लिया हो, लेकिन उनका निशाना साफ़ कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश और बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव की और ही था। वहीँ तेजस्वी ने नीतीश के इस बयान पर तंज कसते हुए उन पर हमेशा ध्यान केन्द्रित करने की बात कहकर नीतीश का धन्यवाद कहा है।

पढ़ें:- योगी का पतंजलि को बड़ा झटका, रामदेव के सहयोगी बोले- यूपी में काम नहीं धींगा-मस्ती हो रही 

सीएम नीतीश कुमार का युवा नेताओं पर हमला

बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने वंशवाद के जरिये राजनीति में कदम रखने वाले युवा नेताओं पर तंज कसते हुए कहा कि आज के युवाओं में वैसा दम नहीं है। जैसा उनके समय में छात्र आंदोलनों में हुआ करता था। नीतीश ने बिना किसी का नाम लिए कहा कि आज का युवा परिवार के भरोसे राजनीति में अपना भाग्य आजमा रहे हैं।

पढ़ें:- बीजेपी के पीठ पीछे इफ्तार पार्टी में एकजुट होगा विपक्ष 

नीतीश के बयान पर राजद की प्रतिक्रिया

वहीं सीएम नीतीश कुमार के बयान की प्रतिक्रिया तुरंत देखने को मिली। राजद नेता मृत्युंजय तिवारी ने कहा कि नीतीश एक बार अपने सहयोगी दल बीजेपी को देख लें जिसमें परिवार से निकले लोग भरे पड़े हैं। उन्होंने कहा कि इस बात से किसी का लेना-देना नहीं होना चाहिए कि किसी के पूर्वज राजनीति में हैं और वह आगे आकर समाज के लिए काम करना चाह रहा है। वहीं पूर्व डिप्टी सीएम तेजस्वी ने ट्वीट कर नीतीश पर निशाना साधा है।

बता दें कि नीतीश कुमार ने यह बयान जेडीयू के युवा सम्मेलन में दिया। हो सकता है कि नीतीश कुमार ने यह बयान किसी नेता के संदर्भ में न देकर युवाओं को प्रेरित करने के लिए दिया हो। लेकिन फिलहाल इस पर राजनीति तेज होती नजर आ रही है। अब देखना है कि परिवार के रास्ते राजनीति में आए बाकी नेता इस पर क्या प्रतिक्रिया देते हैं।

loading...
Loading...

You may also like

AAP- कांग्रेस के संभावित गठबंधन पर पूर्व सीएम शीला दीक्षित का बड़ा बयान

नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी और कांग्रेस के