सावधान : अब यूपी में नौजवानों के हक से नहीं खेल पाएगा कोई

अब यूपी में नौजवानों के हक से नहीं खेल पाएगा कोई
Loading...

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि बीजेपी सरकार लगातार युवाओं को पारदर्शी तरीके से नौकरी दे रही है। अब कोई खानदान, कोई परिवार और विशेष जाति के लोग झोला लेकर नौकरी नहीं बांट पा रहे हैं। नौजवानों के भविष्य से खिलवाड़ करने वालों पर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (NSA) के तहत कार्रवाई करते हुए जेल भेजा जाएगा। ऐसे लोगों की संपत्ति जब्त कर गरीबों में बांट दी जाएगी। इसके जल्द व्यवस्था की जाएगी।

सीएम योगी दीनदयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय के क्रीड़ा संकुल के मंच पर एक जिला एक उत्पाद (ODOP) के तहत टेराकोटा, पॉटरी व खाद्य प्रसंस्करण पर आयोजित कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। कहा कि पिछली सरकार ने दबंगों को मिट्टी खनन का ठेका दे दिया था। इस कारण औरंगाबाद व अन्य स्थानों के हस्तशिल्पी मिट्टी नहीं पा रहे थे। हमारी सरकार प्रजापति समुदाय से जुड़े हस्तशिल्पियों को निश्शुल्क मिट्टी दे रही है। टेराकोटा अमेजन के माध्यम से विश्व बाजार में उपलब्ध है।

जल्द ही इसे मुंबई स्टाक एक्सचेंज और नेशनल स्टाक एक्सचेंज से जोड़ा जाएगा। परंपरागत हस्तशिल्प को प्रोत्साहित करने के लिए जल्द ही विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना लागू की जाएगी।

ये भी पढ़ें:- SP-BSP Alliance : चाचा के साथ और बुआ-बबुआ के खिलाफ कहा ठग-बंधन 

मुख्यमंत्री योगी ने महिला स्वयंसेवी समूहों की तारीफ की और कहा कि ग्रामीण महिलाएं तेजी से स्वरोजगार अपना रही हैं। गोरखपुर की टेराकोटा शिल्पी शिखा शर्मा और आजमगढ़ के ब्लैक पॉटरी से जुड़े सोहित प्रजापति ने अपने अनुभव साझा किए। इससे पूर्व मुख्यमंत्री ने सरस हाट व शिल्प मेला का निरीक्षण किया और शिल्पियों से बात की।

आभार ज्ञापन आयुक्त एवं निदेशक उद्योग के. रविंद्र नायक ने किया। इस दौरान सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम व निर्यात प्रोत्साहन के सचिव भुवनेश कुमार आदि मौजूद रहे।

सीएम योगी ने कहा कि पहले युवाओं को नौकरी के लिए भटकना पड़ता था लेकिन अब कंपनियां उनके घर में आकर नौकरी दे रही हैं। गोरखपुर विश्वविद्यालय में लगे रोजगार मेले में 70 कंपनियां 6156 युवाओं को रोजगार देंगी। सभी को रोजगार मिले, यह देखने के लिए वह खुद आए हैं।

सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम मंत्री सत्यदेव पचौरी ने कहा कि विकास न होने की बात कहने वालों की आंखों पर पट्टी बंधी है। उत्तर प्रदेश में परंपरागत उद्योग फले-फूले यही हमारा संकल्प है। ओडीओपी में सांस्कृतिक धरोहर को हम आगे बढ़ा रहे हैं। कहा कि गोरखपुर में हिंदुत्व की गंगोत्री निकलती है।

गोरखपुर, आजमगढ़, बुलंदशहर, प्रतापगढ़, अयोध्या, औरैया, बलरामपुर, गोंडा, कौशाम्बी, सिद्धार्थनगर, हाथरस, मुजफ्फरनगर।

Loading...
loading...

You may also like

कांग्रेस ने कर्नाटक प्रदेश इकाई की भंग, अध्यक्ष पद है बरकरार

Loading... 🔊 Listen This News नई दिल्ली। कांग्रेस