सीएम योगी ने किया कन्या पूजन, रामनवमी की दी बधाई

रामनवमीरामनवमी

गोरखपुर। गोरक्षपीठाधीश्वर और सीएम योगी आदित्यानाथ रविवार को गोरखपुर पहुंचे। जहां पर उन्होंने सबसे पहले गोरखनाथ मंदिर में अपने गुरु महंत अवैद्यनाथ की समाधि स्थल पर मत्था टेका। इसके बाद सीएम योगी ने पूरे विधि-विधान से परंपरागत रामनवमी पूजन किया।

विधि-विधान से सीएम योगी ने किया रामनवमी पूजन

मन्दिर में एक घंटे चली पूजन प्रक्रिया में उन्होंने 151 कन्याओं और एक भैरव की वैदिक मंत्रोच्चार के बीच पूजा की। इसके बाद उन्होंने   अपने हाथ से कन्याओं को भोजन कराया। योगी ने सभी कन्याओं को अपने हाथ से दक्षिणा देकर सम्मान पूर्वक विदाई भी की। इसी के साथ अपने हाथों से पारंपरिक कन्या पूजन सम्पन्न करने के बाद भाजपा कार्यकर्ताओं और प्रशासनिक अधिकारियों से मुलाकात की। इस दौरान उड्डयन मंत्री  नंद गोपाल गुप्‍ता नंदी भी मौजूद रहे।

ये भी पढ़ें :-मायावती के इस ऐलान से उड़ जाएगी मोदी-शाह की नींद 

देशवासियों को श्री रामनवमी के महापर्व की शुभकामनाएं दी

इससे पहले सीएम योगी आदित्यनाथ ने अपने ट्वीट कर समस्त देशवासियों को श्री रामनवमी के महापर्व की शुभकामनाएं दी । उन्होंने ट्विट किया कि भगवान श्री राम ने हमें धर्म का अनुसरण करते हुए जीवन जीने की प्रेरणा दी है। मर्यादा पुरुषोत्तम के रूप में उनका जीवन हम सभी को त्याग, मर्यादाओं के पालन और कर्तव्यपरायणता की सीख देता है।

51 शक्तिपीठों में एक मां पाटेश्वरी देवी पाटन मंदिर में निशा पूजन और शस्त्र पूजन

बतातें कि शनिवार रात उन्होंने बलरामपुर के तुलसीपुर में देश के 51 शक्तिपीठों में एक मां पाटेश्वरी देवी पाटन मंदिर में अष्टमी तिथि में श्रद्धापूर्वक निशा पूजन और शस्त्र पूजन की प्रक्रिया संपंन की थी। प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गोरखपुर एयरपोर्ट से दिल्ली के लिए स्पाइसजेट की बोइंग विमान सेवा का उद्घाटन करने के लिए मंदिर से रवाना हो चुके है। जहां से वे सीधे दिल्ली के लिए उड़ान भरेंगे।

अमित शाह सहित कई वरिष्ठ नेताओं से योगी करेंगे मुलाकात

बताया जा रहा है कि दिल्ली प्रवास के दौरान उनकी बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह सहित कई वरिष्ठ नेताओं से मुलाकात होनी है। इस मुलाकात में लोकसभा उपचुनाव में मिली हार को लेकर चर्चा की जाएगी। साथ ही राज्यसभा चुनाव व आने वाले विधानपरिषद चुनाव पर भी चर्चा होने की उम्मीद की जा रही है।

Loading...
loading...

You may also like

CSIR-CIMAP में नेशनल कांफ्रेंस ऑन मिंट: प्रास्पेक्ट, चैलेंज और थ्रेट्स पर

लखनऊ। CSIR-CIMAP अपने डॉयमंड जुबली वर्ष में रविवार