सीएम योगी से इस ख़ास मुद्दे पर मदद मांगने पहुंचे थे मुलायम सिंह

मुलायम सिंह यादव
Please Share This News To Other Peoples....

लखनऊ। सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव और सीएम योगी आदित्यानाथ की मुलाकात ने यूपी की सियासत में भूचाल ला दिया है। वहीं कई तरह की शियासी अटकलें लगायीं जा रही हैं। हर कोई जानना चाहता है कि आखिर मुलायम सिंह सीएम योगी से मिलने क्यों पहुंचे। इस मुलाकात के पीछे ख़ास वजह निकल सामने आ रही है। जिसके लिए सपा के पूर्व अध्यक्ष सीएम से मदद मांगने पहुंचे थे।

मुलायम सिंह यादव ने सीएम से मांगी मदद

सूत्रों की माने तो मुलायम सिंह सीएम योगी आदित्यनाथ से अपने सरकारी बंगले को बचाने के लिए मदद मांगने पहुंचे थे। इस दौरान दोनों नेताओं के खिलाफ करीब आधे घंटे तक बातचीत चली। उन्होंने सुप्रीम कोर्ट के पूर्व मुख्यमंत्रियों से आवास खाली करवाने वाले आदेश को लेकर बातचीत की। मुलायम चाहते हैं कि मुलायम सिंह ने सीएम से बंगला बचाने के लिए कोई रास्ता निकालने को कहा है।

सम्बंधित खबर:- सीएम योगी आदित्यनाथ से मिले मुलायम सिंह यादव, सियासी चर्चाएं तेज 

सुप्रीम ने पूर्व सीएम के बंगले खाली करवाने के दिए निर्देश

गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट ने हाल ही में पूर्व सीएम को सरकारी बंगला दिए जाने के क़ानून को ख़त्म कर दिया है। जिससे अब छह पूर्व मुख्यमंत्रियों मुलायम सिंह यादव, अखिलेश यादव, राजनाथ सिंह, कल्याण सिंह, एनडी तिवारी और मायावती से सरकारी बंगला खाली करने को कहा है। राज्य संपत्ति विभाग उनका मकान खाली कराने की तैयारी कर रहा है।

सूत्रों की माने तो मुलायम सिंह और सीएम के बीच चर्चा के दौरान यह भी कहा गया कि अगर मुलायम और अखिलेश के सरकारी बंगले विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष राम गोविंद चौधरी और विधानपरिषद में नेता प्रतिपक्ष अहमद हसन के नाम कर दिए जाएं तो आवास बच सकते हैं। यह भी चर्चा हुई कि कल्याण सिंह का आवास उनके पोते और राज्यमंत्री संदीप सिंह को आवंटित कर दिया जाए।

बता दें कि राज्य सम्पत्ति विभाग ने सभी पूर्व मुख्यमंत्रियों को देने के लिए नोटिस तैयार कर लिया है। इस पर न्याय विभाग की सहमति भी आ गई है। अब सीएम की मंजूरी के बाद ही इसे सभी पूर्व सीएम को भेजा जाएगा।

Related posts:

साफ-सुथरे और सुरक्षित वातावरण में मनपसन्द चिकित्सक से करा सकेंगे इलाज
त्योहार पर यात्रियों को नहीं होगी परेशान, रोडवेज का प्लॉन तैयार
भारत में स्किन सोरायसिस के 33 मिलियन रोगी, क्रांतिकारी बदलाव लाएगी एप्रेमिलास्ट
चुनाव खत्म होते ही लगेगा मंहगी बिजली का झटका , सीएम से हस्तक्षेप की मांग
UP board: इस बार तीन गुणा अधिक सेल्फ फाइनेंस कॉलेजों को बनाया परीक्षा केंद्र 
VIDEO : पीडियाट्रिक रिहैबिलिटेशन में सुपर स्पेशलिटी शुरू करने वाला देश का पहला संस्थान बन जायेगा केज...
अयोध्या विवाद पर बनी फिल्म का विरोध शुरू, हिन्दू युवा वाहिनी ने दी चेतावनी
25 साल सीएम रहने के बावजूद माणिक सरकार के पास नहीं खुद घर, अब पार्टी कार्यालय में रहेंगे
वरुण गांधी ने मोदी सरकार के खिलाफ अपनाया बागी रुख, कांग्रेस में शामिल होने की अटकलें तेज
सोमवती अमावस्या पर है खास संयोग, धन लाभ के लिए करें ये उपाय
आईआईएलएम में संख्या का नही छात्रों का हो सम्पूर्ण विकास : प्रो.सुशील कुमार
मिस्ड कॉल से हुआ प्यार, एक बच्चे की मां को ले भागा छात्र

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *