Main SliderTech/Gadgetsउत्तर प्रदेशलखनऊ

सीएम योगी ने लॉंच किया ‘आयुष कवच एप’, जानिए खास बातें

लखनऊ। उत्‍तर प्रदेश सरकार ने आयुष कवच एप लॉन्‍च किया है। कोरोना की महामारी के बीच लोगों की सुरक्षा को देखते हुए इसे बनाया गया है। राज्‍य के आयुष विभाग ने इसे तैयार किया है। मंगलवार को मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने आयुष कवच मोबाइल एप का लोकार्पण किया।

लॉकडाउन के तीसरे चरण में सीएम योगी ने अफसरों के साथ बैठक में दिए निर्देश

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एप को लॉन्‍च करते हुए बताया कि यह एप आयुर्वेद में मौजूद जड़ी-बूटियों और चिकित्सा पद्धति पर आधारित है। कोरोना के खिलाफ जंग में दुनिया भारत की ओर आशा से देख रही है। आयुर्वेद और भारत की प्राचीन परम्पराओं में इस प्रकार के किसी भी वायरस से लड़ने के लिए शरीर की प्रतिरोधक क्षमता विकसित करने से जुड़े तमाम तथ्य उपलब्ध हैं। यह एप प्राकृतिक संसाधनों से इम्‍यूनिट को बढ़ाने के बारे में अपडेट देगा। उन्‍होंने उम्‍मीद जताई कि लोग इस एप का इस्‍तेमाल करके संक्रमण को हरा पाएंगे।

उन्‍होंने कहा कि आयुर्वेद चिकित्सा की ऐसी प्रणाली है, जिसमें बीमारियों से लड़ने के लिए शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने पर बल दिया जाता है। आयुर्वेद में मौजूद जड़ी-बूटियों से जुड़ी जानकारियों और चिकित्सा पद्धति की जानकारी एप पर सरल भाषा में उपलब्ध है।

कैसे कर सकते हैं इस्‍तेमाल

इसे गूगल एप के प्‍ले स्‍टोर से डाउनलोड किया जा सकता है। यह आयुर्वेद और योग पद्धति के आधार पर खुद की देखभाल और रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के मकसद से तैयार किया गया है।

अदृश्य शत्रु से लड़ने वाले देश के वीरों का आकाश से स्वागत

इसे फोन पर डाउनलोड करने के बाद आपसे लॉग-इन करने के लिए अपना पासवर्ड बनाने को कहा जाएगा। साथ ही आपसे मोबाइल नंबर पूछा जाएगा। बताए गए मोबाइल नंबर पर वन-टाइम पासवर्ड (ओटीपी) भेजा जाएग। इसे डालने के बाद आप इसे इस्‍तेमाल कर सकते हैं।

क्‍या है जानकारी

एप में आपको आयुर्वेद की आवश्‍यकता के बारे में बताया गया है। सभी जानकारियां हिंदी और अंग्रेजी दोनों भाषा में उपलब्‍ध हैं। दूसरा सेक्‍शन बेहतर जीवनशैली का है। इसमें कुछ बुनियादी चीजों की जानकारी दी गई है। मसलन, सूर्योदय से एक घंटे पहले उठ जाना चाहिए, हल्‍के गुनगुने पानी का सेवन करना चाहिए इत्‍यादि। ‘रोग प्रतिरोधक क्षमता वृद्धि आयुष मंत्रालय के उपाय’ सेक्‍शन में इम्‍यूनिटी बढ़ाने के उपाय बताए गए हैं। इसमें लाइव योगा सत्र, आयुष कोविड-19 योद्धा, राज्‍य स्‍तरीय कंट्रोल रूम, योग तथा ध्‍यान वीडियो-गैलरी, कोविड-19 के अलग-अलग सेक्‍शन हैं. मुख्‍यमंत्री राहत कोष कोविड केयर फंड में योगदान के लिए भी एक सेक्‍शन है।

 

loading...
Loading...