मण्डलायुक्त ने जैविक खेती ,मिश्रित खेती, बहुफसली खेती किया निरीक्षण

मण्डलायुक्त
Please Share This News To Other Peoples....

लखनऊ। मण्डलायुक्त अनिल गर्ग ने ग्राम मियांपुर विकास खण्ड ऊंचाहार जिला रायबरेली में किसान जेपी सिंह के फार्म पर जैविक खेती ,मिश्रित खेती, बहुफसली खेती, वर्मीकम्पोस्ट उत्पादन तथा ड्रिप सिंचाई के अभिनव कार्य का निरीक्षण किया।

गन्ने के साथ लहसून की खेती तथा सरसों की जैविक खेती

जेपी सिंह ने बताया कि मेरे फार्म पर गन्ने के साथ लहसून की खेती तथा सरसों की जैविक खेती की जा रही है। जिसमे लहसून एवं सरसों की कटाई के बाद जायद की दलहनी फसलों की बुवाई की जायेगी। मल्चिंग विधि से सर्दियों के मौसम में फूलगोभी एवं पत्ता गोभी की दो-दो फसलें ली जाती है तथा बसन्त शुरू होते ही इसमे भिण्डी, खीरा तथा परवल की फसल तैयार की जाती है।

गोबर व अन्य अपशिष्ट के साथ वर्मी कम्पोस्ट बनाने के काम

श्री सिंह ने बताया कि मेरे पास ग्यारह गायें हैं। जिनका गोबर व अन्य अपशिष्ट के साथ वर्मी कम्पोस्ट बनाने के काम आता है तथा पशुमूत्र को नाली के माध्यम से तालाब में ले जाया जाता है। जहां से सारे फार्म पर ड्रिप सिंचाई की जाती है। हमारे यहां अनार, कमरख, अमरूद एवं केला की भिन्न-भिन्न प्रजाति के पौधे उपलब्ध है। जिन पर फूल आ रहे हैं, मेरे खेतों की मेंड़ों पर, तालाब के किनारे एवं अन्य सभी अवशेष जगह पर सब्जियां  उगायी जा रही हैं। जिससे प्रत्येक इंच भूमि का उपयोग किया जा सके।

श्री सिंह ने बताया कि यह मेरी जिजीविषा तथा इच्छा संकल्प से ही सम्भव हो पाया है। श्री सिंह ने कहा कि ऋषि एवं कृषि परम्परा हमारे देश कि अनमोल धरोहर है। सिंह ने बताया कि वह  देवरिया(भाट परानी) से यहां  आकर जमीन खरीद कर खेती शुरू की। वह इस समय 70 वर्ष के हैं वह अकेले ही खेती का कार्य सम्भालते हैं।

ये भी पढ़ें :-भोजपुरी स्टार खेसारीलाल अभिनीत की फिल्म “दबंग सरकार” की शूटिंग लखनऊ में शुरू 

मण्डलायुक्त ने कहा फार्म के कार्यो को प्रचारित किया जाना चाहिए

मण्डलायुक्त ने कहा कि श्री सिंह के फार्म के कार्यो को प्रचारित किया जाना चाहिए। उन्होंने  निर्देश दिये कि इस फार्म पर अधिक से अधिक किसानों को भ्रमण कराया जाये। उन्होंने कहा कि जेपी सिंह के कार्यो की डाक्यूमेंन्ट्री बनायी जानी चाहिए, जिससे अन्य किसानों को प्रेरणा एवं दिग्दर्शन मिले। इस अवसर पर मण्डलायुक्त द्वारा कृषकों को वर्मी कम्पोस्ट अनुदान, भुगतान के प्रमाण पत्र,सोलर पम्प, चमन पत्र, मृदा कार्ड वितरित किये गये।

भ्रमण के समय मण्डलायुक्त के साथ संयुक्त निदेशक कृषि लखनऊ मण्डल वीरेन्द्र सिसौदिया, जिलाधिकारी रायबरेली संजय कुमार खत्री, जिला कृषि अधिकारी रवि चन्द्र प्रकाश उपस्थित थे।

Related posts:

GDP 13 साल में सबसे नीचे गिरी, राहुल बोले- मोदी-जेटली की जोड़ी कहाँ ले जा रही हमे
अमेरिका ने रोकी फिलिस्तीनी मदद, संयुक राष्ट्र ने की निंदा...
प्रवीण तोगड़िया और मोदी थे अच्छे दोस्त, फिर सत्ता की चाह ने बनाया जानी दुश्मन
नेपाल में RAW में नौकरी दिलाने के नाम पर फ्रॉड करने वाले छः गिरफ्तार
U.P.J.E.E. B.Ed 2018 के ऑनलाइन आवेदन फॉर्म 15 फरवरी से
किराए पर मिल रहा 'वैलेंटाइन डे' मनाने के लिए पार्टनर, देखिये क्या हैं पैकेज
पूर्व डिप्टी सीएम तेजस्वी ने BJP के बड़े नेता के शामिल होने के दिए संकेत, मचा हड़कंप...
VIVO IPL 2018 में प्रस्तुति देने से बेहतर कोई स्पोर्ट्स इवेंट नहीं : तमन्ना
उन्नाव गैंगरेप : आरोपी MLA के खिलाफ मुक़दमा दर्ज, गिरफ़्तारी से सरकार ने झाड़ा पलड़ा
उपचुनाव: 10 राज्यों में डाले जायेंगे वोट, BJP और विपक्ष के लिए अग्निपरीक्षा
गाय से फैल रहा है जानलेवा वायरस, 1 लाख 26 हजार गायों को मारने का आदेश
यूपी पुलिस भर्ती परीक्षा शुरू, गोरखपुर और इलाहाबाद से 16 सॉल्वर अरेस्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *