कंपनी कर्मी ने खुद 9 लाख छिपाकर फैलाई लूट की अफवाह

लूटलूट
लखनऊ। मनी चेंजर क पनी के एक कर्मचारी ने नौ लाख लूटे जाने की फर्जी अफवाह फैलाकर पुलिस के होश उड़ा दिये। उसने दिनदहाड़े नौ लाख लूटे जाने की सूचना देने से पहले हाथ के बाजू में ब्लेड से कट मारा था, जबकि तेज कुमार प्लाजा स्थित आफिस से निकलने से पहले ही रकम बाथरूम में छिपा दी थी। हजरतगंज पुलिस ने कड़ाई से पूछताछ की तो नौकर ने अपनी रची साजिश का ही खुलासा कर दिया। जिसे बाद में गिर तार कर रकम बरामद कर ली गयी।

रास्ते में किया पुलिस को सूचित 

राजाजीपुरम में बलबीर कुमार परिवार संग रहते हैं, उनका मनी चेजिंग का काम है। उन्होंने तेज कुमार प्लाजा में पी.के.पी. इण्डिया प्रा.लि. के नाम से आफिस खोल रखा है। उन्होंने कैसरबाग निवासी कर्मचारी वरूण से आईसीआईसी बैंक में नौ लाख रूपये जमा करने को कहा था। वरूण गुरूवार दोपहर करीब डेढ़ बजे के आसपास बैग में रकम रखकर पैदल बैंक जाने के लिए निकला। डीआरएम कार्यालय व बैंक के बीच में ही पहुंचते ही उसने रकम लूटने की सूचना पुलिस को दे दी।

हडकंप मचने पर आए अधिकारी 

हडकंप मचा तो आईजी सुजीत कुमार पाण्डेय, एसएसपी डा.कलानिधि नैथानी, एसपी पूर्वी सर्वेश मिश्रा, सीओ हजरतगंज अभय कुमार मिश्रा, इंस्पेक्टर गंज ए.के.शाही मौके पर पहुंचे। पीडि़त ने बताया कि बदमाशों ने उसके दांये हाथ में ब्लेड से कट मारकर नोटों भरा बैग छीना है। पुलिस ने छानबीन शुरू की तो खाली बैग वहीं कुछ दूरी पर पड़ा मिला। घायल को अस्पताल पहुंचाया गया।
शुरूआती छानबीन में पुलिस को घटना संदिग्ध लगी। जिसके चलते उसने मालिक के आने पर दोबारा वरूण से पूछताछ शुरू की। तब उसने खुद रची गयी लूट की साजिश से पर्दा उठा दिया। बोला कि रकम जमा करने से पहले नोट उसने बाथरूम में छिपा दिये थे। पुलिस बाथरूम में पहुंची तो रकम मिल गयी। वरूण पर उसके मालिक ने भी संदेह जताया था। फिलहाल आरोपी को गिर तार कर लिया गया है।
loading...
Loading...

You may also like

रेल हादसा: रावण पुतला दहन के दौरान ट्रेन से कटकर 50 से ज्यादा मरे

अमृतसर। यहां जोडा रेलवे फाटक के पास दशहरा