कंडोम ने बच्ची के बलात्कारी को 30 साल बाद पहुँचाया जेल

कंडोमकंडोम

साल 1988 में अमेरिका में एक बच्ची का बलात्कार करने के बाद हत्या हो गई थी। निर्दयतापूर्वक घटित हुई हत्या तब काफी ज्यादा सुर्खियों में रही थी। और अब जाके 30 साल बाद पुलिस ने इस हत्या का पर्दाफाश कर दिया है और आरोपी जॉन मिलर को गिरफ्तार कर लिया है। इस केस की खास बात यह रही कि कंडोम की जांच के बाद जुटाए गए डीएनए से अब 30 साल बाद 59 वर्षीय आरोपी तक पहुंचने में अमेरिकी पुलिस को सफलता मिली है। दरअसल कंडोम के सहारे भी इतने लंबे समय की जांच के बाद पुलिस की यह सफलता काफ़ी हैरान करने वाली है।

8 साल की बच्ची के साथ रेप 

जब यह घटना हुई थी तब बच्ची की उम्र महज़ आठ साल की ही थी। घटना के बाद बच्ची की लाश फोर्ट वायने में स्थित घर के नज़दीक बरामद हुई थी। अब जाकर हत्यारोपी की पहचान 59 वर्षीय जॉन मिलर के रूप में हुई है। वाशिंगटन पोस्ट की रिपोर्ट के अनुसार आरोपी के घर के पास से 2004 में प्रयोग किए जा चुके कंडोम बरामद हुए थे। उसी कंडोम की मदद से पुलिस ने डीएनए हासिल किया था और उसका डीएनए का नमूना बच्ची के कपड़े से जुटाए गए डीएनए के नमूने से एकदम मैच कर गया।

पीड़ित बच्ची

डीएनए के आधार पर रिसर्चर ने जॉन मिलर और उसके भाई पर बलात्कार और  हत्या में शामिल होने का संदेह व्यक्त किया है। रिपोर्ट्स  के अनुसार जॉन मिलर के द्वारा इस्तेमाल हुए 3 कंडोम बच्ची के जेनेटिक प्रोफाइल से मैच हो गए है। सुनवाई के दौरान आरोपी ने कोर्ट में अपने खिलाफ लगे इन आरोपों को स्वीकार किया है। कोर्ट में सुनवाई के वक़्त बच्ची के परिवार के लोग बेहद भावुक हो उठे थे। जब बच्ची की बलात्कार के बाद हत्या हुई थी तो पुलिस ने उसकी अंडरवियर कब्जे में लेते हुए आरोपी के डीएनए जुटाए थे।

यह भी जरूर पढ़ें:लखनऊ : हादसे का शिकार होने से बची शताब्दी एक्सप्रेस, ड्राइवर ने लगाया इमरजेंसी ब्रेक 

loading...
Loading...

You may also like

विपक्षी दलों की बैठक पर आज़म खां ने जताई नाराज़गी, कहा- महागठबंधनमें मुसलमानों की कोई हिस्सेदारी नहीं

नई दिल्ली। दिल्ली में विपक्षी दलों की हुई