सीबीआई विवाद पर कांग्रेस नेता सिब्बल ने मोदी सरकार पर कसा तंज़, दिया ये बयान

नई दिल्ली। आलोक वर्मा को सीबीआई निदेशक पद से हटाए जाने की पृष्ठभूमि में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल ने शुक्रवार को नरेंद्र मोदी सरकार पर निशाना साधा है। और दावा किया है, कि पिजड़े में बंद तोते को उड़ने नहीं दिया गया क्योंकि वह सत्ता के गलियारे के सारे राज खोल देता।

ये भी पढ़े:-रामचंद्र छत्रपति हत्याकांड : राम रहीम दोषी करार, 17 को होगा सजा का ऐलान 

सिब्बल ने ट्वीट कर कहा कि आलोक वर्मा को हटाया गया। समिति ने सुनिश्चित किया कि पिजड़े में बंद तोता उड़ न सके क्योंकि इसका डर था कि कहीं ये तोता सत्ता के गलियारे के राज न खोल दे। उन्होंने तंज कसते हुए यह भी कहा कि पिजड़े में बंद तोता अभी बंद ही रहेगा। गौरतलब है कि कुछ साल पहले उच्चतम न्यायालय ने सीबीआई को पिजड़े में बंद तोता कहा था।

ये भी पढ़े:-भाजपा के ब्रज क्षेत्र कोषाध्यक्ष राजेश अग्रवाल की संदिग्ध हालात में हुई मौत

सीबीआई के 55 वर्षों के इतिहास में इस तरह की कार्रवाई का सामना करने वाले जांच एजेंसी के वह पहले प्रमुख हैं।1979 बैच के आईपीएस अधिकारी वर्मा बुधवार को ड्यूटी पर लौटे थे। इससे एक दिन पहले ही उच्चतम न्यायालय ने कुछ शर्तो के साथ उनकी वापसी का मार्ग प्रशस्त किया था और सीबीआई प्रमुख का चयन करने वाली तीन सदस्यीय समिति से एक सप्ताह में उनके पद पर बने रहने के बारे में फैसला करने के लिए कहा था।

उच्चतम न्यायालय द्वारा बहाल किये जाने के मात्र दो दिन बाद आलोक वर्मा को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता वाली एक उच्चाधिकार प्राप्त चयन समिति ने गुरुवार को एक मैराथन बैठक के बाद एक अभूतपूर्व कदम के तहत भ्रष्टाचार और कर्तव्य निर्वहन में लापरवाही के आरोपों में सीबीआई निदेशक के पद से हटा दिया गया है।

Loading...
loading...

You may also like

बिहार महागठबंधन में सीटों के बंटवारे का ऐलान

🔊 Listen This News पटना। लोकसभा चुनाव को