मनकामेश्वर मंदिर में इफ्तार पार्टी को लेकर विवाद, महंत देव्यागिरी पर लगे गंभीर आरोप

Please Share This News To Other Peoples....

लखनऊ। यूपी की राजधानी लखनऊ के डालीगंज स्थित मनकामेश्वर मंदिर की महंत दिव्यागिरी की तरफ से मनकामेश्वर उपवन घाट पर इफ्तार पार्टी देने को लेकर अब विवाद खड़ा हो गया है। इस मामले में हिंदू संगठनों ने महंत देव्यागिरी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। हिन्दू संगठनों की तरफ से मंदिर के खजाने के दुरुपयोग और आरती स्थल पर नमाज अदा करने पर आपत्ति जताई है।

पढ़ें:- मनकामेश्वर मठ : निर्धन कन्याओं का सम्मान व फलाहार कराकर मनाया नवरात्री पर्व 

महंत देव्यागिरी के खिलाफ प्रदर्शन

जानकारी के मुताबिक इस मामले में अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद से शिकायत भी की गई है। वहीं हिंदू संगठनों ने आपत्ति दर्ज कराने के लिए लखनऊ के हसनगंज में प्रदर्शन भी किया. इस मामले में मनकामेश्वर मंदिर के प्रबंधक अमित गुप्ता ने बीस लोगों के खिलाफ धमकी, और सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक संदेश प्रचारित करने के आरोप में प्राथमिकी भी दर्ज कराई है। कई हिंदू संगठनों ने डालीगंज, तट परिसर के आसपास विरोध स्वरूप प्रदर्शन किए। देर रात संगठनों के पदाधिकारियों ने हसनगंज कोतवाली के बाहर कार्रवाई के लिए प्रदर्शन भी किया।

पढ़ें:- शक्ति सम्मान के साथ मनाया गया विश्व महिला दिवस : मनकामेश्वर मठ-मंदिर 

हसनगंज कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक हर प्रसाद अहरिवार ने बताया कि मनकामेश्वर मंदिर के प्रबंधक अमित गुप्ता ने अंबुज निगम, सनी, संदीप जायसवाल, अमित साहू और चेतन सहित 20 अज्ञात लोगों पर धमकाने व सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक संदेश प्रसारित करने का आरोप लगाते हुए प्राथमिकी दर्ज कराई है। इसकी जांच की जा रही है।

पढ़ें:- टेसू के गुलाल, पुष्प होली के रंग मे घुला मनकामेश्वर उपवन घाट

महंत देव्यागिरी ने रखा अपना पक्ष

वहीं मंदिर की महंत दिव्यागिरि का कहना है कि सारा आयोजन साम्प्रदायिक सौहार्द के लिए किया गया था। फिर भी लोग उसका विरोध कर रहे हैं जो कि बेहद दुखद है। अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि जी महाराज ने बताया कि उन्हें अभी शिकायती पत्र नहीं मिला है। लेकिन आरती स्थल पर नमाज कराना गलत है। मंदिर में चढ़ावे के धन का प्रसाद, प्रभु सेवा के इतर उपयोग भी गलत है। पत्र मिलते ही अखाड़ा परिषद मामले की जांच करवाकर कार्रवाई करेगा।

बताया जा रहा है लों हिंदू साम्राज्य परिषद की अध्यक्ष रंजना अग्निहोत्री, राष्ट्रीय महासचिव वंदना कुमार ने अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेन्द्र गिरि महाराज को पत्र लिखकर शिकायत की है। रंजना ने बताया कि मंदिर की महंत का साथ में भोजन करना, भगवा वस्त्रों पर चौखाने वाले रुमाल का ओढ़ना, मंदिर के धन का दुरुपयोग करना गलत है।

बता दें कि लखनऊ के सबसे पुराने मंदिर में से मनकामेश्वर मंदिर में पहली बार इफ्तार पार्टी का आयोजन किया गया। इफ्तार पार्टी का आयोजन रविवार शाम मनकामेशवर मंदिर के उपवन घाट पर हुआ था।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *