अंतर्राष्ट्रीयफैशन/शैलीराष्ट्रीयस्वास्थ्य

कोरोना वायरस के संक्रमित मामलों में पुरूषों की संख्या महिलाओं से अधिक

लाइफस्टाइल डेस्क.  विश्व में कोरोना वायरस के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं. दुनियाभर में अब तक तकरीबन 5 लाख लोग संक्रमित हैं. वर्ल्ड वाइड तकरीबन 24 हजार लोगों की मौत हो चुकी है. ग्लोबल हेल्थ के डेटा विश्लेषण के अनुसार वायरस से पुरुषों की मृत्यु दर महिलाओं की तुलना में अधिक है. राष्ट्रीय स्वास्थ्य संस्थान द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार इटली में कुल कोरोना वायरस के मामलों में 60% पुरुष थे और 40 % महिलाएं.

भारतीय सेना ने कोरोना से लड़ने की लिए कमर कसी, की ‘ऑपरेशन नमस्ते’ की शुरुआत 

चीन और दक्षिण कोरिया के डेटा विश्लेषण ने भी इसी तरह के आंकड़े देखे गए। वहीं, अमेरिका ने अभी कुल मामलों में कितने पुरुष और कितनी महिलाएं थीं, इस बारे में जानकारी नहीं दी है।

आकंड़ों के मुताबिक, इटली में अगर कुल मौतें 34 थीं, तो उसमें से महिलाएं 10 थीं और पुरुष 24। ऐसी ही,

चीन में 18

जर्मनी में 16

ईरान में 14

फ्रांस में 14

दक्षिण कोरिया में 10 महिलाएं, तो 12 पुरुषों की मृत्यु हुई।

अभी तक ऐसा कोई वैज्ञानिक अध्ययन नहीं हुआ है जिसमें ये साफ हुआ हो, कि पुरुषों का मृत्यु दर क्यों ज़्यादा है। हालांकि, महिलाओं के मुकाबले पुरुष कहीं ज़्यादा धूम्रपान करते हैं और COVID-19 उन लोगों के लिए अधिक हानिकारक है जो पहले से ही किसी बीमारी का शिकार हों, जिससे उनकी इम्यूनिटी कमज़ोर हो गई हो।

चीन का उदाहरण लें, तो सबसे ज़्यादा जनसंख्या वाले देश में जहां, 50 प्रतिशत पुरुष धूम्रपान करते हैं, तो वहीं 3 प्रतिशत महिलाएं ऐसी हैं जो धूम्रपान करती हैं। ऐसे ही इटली में 70 लाख पुरुषों की तुलना 45 लाख महिलाएं धूम्रपान करती हैं। हालांकि, रिपोर्ट्स के मुताबिक इटली में कोरोना वायरस के चलतेजितनी मौतें हुईं, उनमें 99 प्रतिशत वो लोगों थे जो पहले से किसी न किसी बीमारी से ग्रस्त थे। 75 प्रतिशत लोग हाई बल्ड प्रेशर के शिकार थे, जिसके शिकार ज़्यादातर पुरुष होते हैं। इसके अलावा पुरुषों के ज़्यादा मामलों के पीछे ये भी कारण हो सकता है कि महिलाओं की तुलना पुरुष काम के लिए ज़्यादा ट्रेवल करते हैं।

हालांकि, ग्लोबल हेल्थ 50/50 का विश्लेषण व्यापक नहीं है, क्योंकि उनकी रिपोर्ट में पूरी दुनिया की सिर्फ 25% आबादी ही शामिल है।

 

loading...
Loading...