चैम्पियनशिप में बिना ट्रायल एमसी मेरीकॉम को भारतीय टीम में जगह देने का विवाद थमा नहीं

- in खेल
Loading...
  • वर्ल्ड चैम्पियनशिप के मुकाबले 3 से 13 अक्टूबर तक दिल्ली में होने वाली है
  • ट्रायल में पहुंचने के बाद भी निखत को उतरने नहीं दिया गया था, इस पर विवाद 
  • इसके लिए छह बार की वर्ल्ड चैम्पियन मैरीकॉम ने ट्रायल से छूट मांगी थी जो उन्हें मिल गई

नई दिल्ली। वर्ल्ड चैम्पियनशिप में बिना ट्रायल एमसी मेरीकॉम को भारतीय टीम में जगह देने का विवाद थमा नहीं है। बॉक्सिंग खिलाड़ी निखत जरीन की शिकायत के बाद इंडियन फेडरेशन 19 अगस्त को दिल्ली में बैठक करने जा रहा है। बैठक में ट्रायल को लेकर अंतिम फैसला होगा। ट्रायल में पहुंचने के बाद भी निखत को उतरने नहीं दिया गया था। इसे लेकर खिलाड़ी ने फेडरेशन के अध्यक्ष और सचिव को ई-मेल किया था और ट्रायल कराने को कहा था। हालांकि निखत को अब तक फेडरेशन की ओर से जवाब नहीं भेजा गया है। वर्ल्ड चैम्पियनशिप के मुकाबले 3 से 13 अक्टूबर तक दिल्ली में होने हैं।

बैठक में 51 और 69 दोनों कैटेगरी में ट्रायल पर फैसला होगा

  1. बॉक्सिंग फेडरेशन के महासचिव जय कोहली ने बताया कि निखत की शिकायत के बाद 19 अगस्त को हम बैठक करने जा रहे हैं। बैठक में अध्यक्ष के अलावा परफॉर्मेंस डायरेक्टर, हेड कोच और चयन कमेटी के डिप्टी चेयरमैन शामिल होंगे। इसके बाद 51 और 69 दोनों कैटेगरी में ट्रायल पर फैसला लिया जाएगा।
  2. छह बार की वर्ल्ड चैंपियन मैरीकॉम ने मई में हुए इंडिया ओपन में निखत और वनलाल को हराने की बात कहते हुए ट्रायल नहीं देने को कहा था। इसके बाद फेडरेशन ने मैरीकॉम की बात मानते हुए ट्रायल नहीं कराने का फैसला किया। इस पूरे विवाद पर खेल मंत्रालय ने भी फेडरेशन से जवाब मांगा था।
  3. ट्रायल 6 से 8 अगस्त हुए थे

    निखत 2016 में वर्ल्ड चैम्पियनशिप में उतर चुकी हैं। तब वे क्वार्टर फाइनल तक पहुंचीं थीं। 23 साल की निखत जूनियर वर्ल्ड चैम्पियन भी रह चुकी हैं। वर्ल्ड चैम्पियनशिप के ट्रायल 6 से 8 अगस्त तक दिल्ली में हुए थे। ट्रायल के पहले दिन निखत का मुकाबला तय था, लेकिन अंतिम समय में इसे टाल दिया गया। निखत और मैरीकॉम दोनों 51 किग्रा कैटेगरी में खेलती हैं।

  4. ओलिंपिक क्वालिफिकेशन के लिए ट्रायल करा सकता है

    बैठक में इस पर फैसला हो सकता है कि 2020 ओलिंपिक के लिए होने वाले क्वालिफिकेशन टूर्नामेंट से ट्रायल कराया जाए। ऐसे में पदाधिकारी निखत से बात करके उन्हें वर्ल्ड चैम्पियनशिप के लिए फिर से ट्रायल नहीं कराने को लेकर तैयार कर सकते हैं। इंटरनेशनल बॉक्सिंग फेडरेशन के बैन होने के कारण वर्ल्ड चैम्पियनशिप से खिलाड़ी ओलिंपिक के लिए क्वालिफाई नहीं करेंगे। इंटरनेशनल ओलिंपिक एसोसिएशन खुद क्वालिफिकेशन टूर्नामेंट कराएगा।

Loading...
loading...

You may also like

भारत-वेस्टइंडीज सीरीज में नो बॉल का फैसला करेगा थर्ड अंपायर

Loading... 🔊 Listen This News दुबई। भारत-वेस्टइंडीज सीरीज