वायुसेना उप-प्रमुख के बयान से कांग्रेस को झटका, कहा- राफेल सौदा देश के लिए फायदेमंद

वायुसेनावायुसेना

नई दिल्ली। राफेल सौदे को लेकर जहां एक ओर कांग्रेस मोदी सरकार को घेरने का प्रयास कर रही है। वहीं भाजपा सरकार अपने बयान और सौदे के निर्णय पर शुरू से कायम है। इस बीच भारतीय वायुसेना के उप-प्रमुख एयर मार्शल रघुनाथ नंबियार ने राफेल सौदे पर अपनी राय रखी है। उन्होंने कहा है कि राफेल को परखने का मुझे मौका मिला, मैं इस सौदे से बेहद खुश हूं। साथ ही उन्होंने अपने निजी अनुभव के आधार पर कहा कि यह सौदा पिछली सरकार से बेहतर हुई है। बता दें कि एयर मार्शल रघुनाथ नंबियार खुद इस विमान को उड़ाकर उसकी टेस्टिंग की है।

भारतीय वायुसेना के उप-प्रमुख एयर मार्शल रघुनाथ नंबियार ने रखी अपनी राय

उन्होंने बीते दिनों लड़ाकू विमान को उड़ाया और इसकी ताकत परखी। डिप्टी चीफ नंबियार ने राफेल की उड़ान भरने के बाद इसकी जमकर तारीफ की है। उन्होंने कहा कि हमें किसी भी कीमत पर राफेल चाहिए। वहीं इस डील में अनिल अंबानी को मिले फायदे के सवाल पर नंबियार ने कहा कि लोगों को इसको लेकर गलत जानकारी दी गई है, ऐसा कुछ नहीं हुआ है। उन्होंने बताया कि ऑफसेट के नाम पर 30,000 करोड़ की बात नहीं है, इसमें जो डासौल्ट वो सिर्फ 6,500 करोड़ का ही कॉन्ट्रैक्ट देगी।

ये भी पढ़ें : अमेठी: राहुल गांधी बोले- मेरी आंख में आंख मिलाकर जवाब ना दे सके पीएम मोदी 

साथ ही उन्होंने बताया कि दाम कुछ भी हो लेकिन एक बात है कि इसकी तकनीक भी बेहद अच्छी है और मेंटेनेंस भी मिल रही है। वहीं एयरफोर्स के डिप्टी चीफ शिरीष बबन देव ने भी राफेल की तारीफ की है। उन्होंने कहा कि फ्रैंच कंपनी को पता है कि यह ऑफसेट कॉन्ट्रैक्ट है और उसे मालूम है इसे कैसे इसकी सर्विस करना है।

कांग्रेस को लगा बड़ा झटका

यह बात किसी से नहीं छिपी है कि कांग्रेस के साथ-साथ पूरी विपक्ष राफेल डील पर काफी समय से सवाल उठा रही है। इस दौरान कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री मोदी को चोर कहते हुए, इसकी डील को बड़ा घोटाला बताया है। हालांकि सरकार ने स्पष्ट कर दिया है कि वह किसी के झूठे आरोपों के दवाब में आकर इस डील को रद्द नहीं करेंगे।

loading...
Loading...

You may also like

पांच हत्याओं में सतलोक आश्रम के संचालक संत रामपाल को आज फांसी या उम्रकैद

हिसार| तथाकथित संत रामपाल पर आरोप तय हो