बढ़ती मंहगाई के बावजूद गर्म है बकरों का बाजार

बकरोंबकरों

लखनऊ। कुर्बानी के त्योहार बकरीद में अब भी दो दिन बाकी है लेकिन आसमान छूती मंहगाई के बावजूद बकरों के बिक्री बाजार में पूरी रफ्तार पकड़ ली है। इस बार उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ की बकरा मंडी में एक से बढक़र एक ऊंची नस्ल के बकरे आये हैं जिनकी कीमत भी नस्ल के मुताबिक काफी ज्यादा होती है।

अजमेरी नस्ल के बकरों में से एक की कीमत ड़ेढ़ लाख रूपए लग चुकी है

चौक बकरा पर लगी मंडी में इस बार अभी तक सबसे महंगे अजमेरी नस्ल के बकरों में से एक की कीमत ड़ेढ़ लाख रूपए लग चुकी है। इस बकरे मालिक मूसा खान बताया कि वो इन बकरों को वे खासतौर से राजस्थान से लेकर आया है। वहीं इस बार आई आई एम रोड पर बनाई गयी नई बकरा मंडी में भी बकरों की कीमत काफी ऊंची ज्यादा लग रही है। इस मंडी में जमनापारी नस्ल की काफी मांग है। जमनापरी बकरों के व्यापारी साबिर ने बताया कि उन्होंने एक बकरा 80 हजार का बेचा। इन पारंपरिक मंडियों के ऑन लाइन बकरा बाजार सजा हुआ है। कई वेबसाइटों पर अलग-अलग कीमतों पर बकरे मिल रहे हैं। खरीददारों के अनुसार गत वर्ष की अपेक्षा इस बार मंडी में बकरों के दामों में बढ़ोतरी हुई है।

ये भी पढ़े :खुशखबरी! अब मोबाइल फोन से भी काम किमत में घर ले जाए 32 इंच टीवी और लैपटॉप 

सरफराजगंज से बकरा लेने आए मोहम्मद मेंहदी का कहना है कि दो और चार दातों वाले डेढ़ साल तक की उम्र के बकरे कुरबानी के लिए सबसे अच्छे माने जाते हैं। छह दांतों वाले बकरे बूढ़े होते हैं और कुरबानी के लिए इनको काद्फी लेना चाहिए। चौक बकरा मंडी में अल्वर नस्ल के सफेद रंग के दो बकरे भी लोगों का ध्यान आकर्षित कर रहे हैं। इनका वजन 50-50 किलो का है। दोनों की कीमत दो लाख 35 हजार रुपये है। बालागंज के रहने वाले बकरों के मालिक सलीम बताते हैं। इनके नाम गाजी और बहादुर रखा गया है। बकरा मंडी पर भी मंहगाई का असर साफ नजर आता है। खरीदार अपनी आर्थिक स्थिति के अनुसार बकरे खरीद रहे हैं। खरीदार नेहाल रिजवी ने बताया की बकरीद के त्योहार में अभी कुछ दिन शेष रह गये हैं मगर उनकी कीमतें आसमान छू रही हैं। उन्होंने बताया कि वर्ष की अपेक्षा इस बार कीमतें अधिक हैं।

 

loading...

You may also like

राशिफल: आज के दिन भूलकर भी न करें ऐसे काम, रखें इन बातों का ध्यान

आज का राशिफल मेष:- कुछ कठिनाइयों से मन