जुआ खेलने से मना करने पर दो पक्षों के बीच विवाद, जमकर चले ईंट-पत्थर

- in क्राइम, लखनऊ

लखनऊ। जुआ खेलने को लेकर मना करने पर बीते गुरूवार को कैंट कोतवाली क्षेत्र के निलमथा में दो पक्षो के बीच जमकर विवाद हुआ। दोनों पक्षों में कहासुनी से शुरू हुआ विवाद देखते ही देखते पत्थर बाजी व मारपीट में तब्दील हो गया। विवाद की सूचना पर मौकै पर पहुंची कैंट कोतवाली की पुलिस से मामला ना संभलने पर जिले के आधा अधिकारियो को मोर्चा संभालना पड़ा।

कैंट कोतवाली अंतर्गत निलमथा क्षेत्र की शाहिनूर कालोनी में गुरूवार शाम करीब पांच बजे किराना व्यापारी नवाब अली के बच्चे व कुछ अन्य लोग पड़ोसी व्यापार मंडल अध्यक्ष लालमन गुप्ता के घर के सामने पड़े तख्त पर जुआ खेल रहे थे। इसी बीच लालमन के बेटे आशीष व राहुल ने जुआ खेल रहे लोगों को जुआ खेलने से मना किया। जिसके बाद दोनों पक्षों में कहासुनी होने लगी।

कैंट इंस्पेक्टर रंजना सचान के मुताबिक, विवाद के बाद लालमन पड़ोसी नवाब अली से उनके घर बात करने गए थे। इसी बीच नवाब अली के बच्चों ने गाली-गलौज शुरू कर दिया। पिता से कहासुनी की आवाज सुनकर मौके पर लालमन के बेटे भी पहुंच गए व दोनों पक्षों में विवाद होने लगा। विवाद ने उग्र रूप ले लिया, देखते ही देखते पत्थर ईंट चलने लगे। घटना में कपड़ा व्यापारी लालमन गुप्ता के बेटे राहुल व आशीष को चोट आई है।

वहीं, कैंट के निलमथा में दो पक्षों में विवाद व पत्थर बाजी की सूचना पर इंस्पेक्टर कैंट रंजना सचान फोर्स के साथ मौके पर पहुंची। लेकिन मामला बढ़ने पर वायरलेस कर गोसाईगंज थाना क्षेत्र से फोर्स मंगाई गई। सूचना पर चौकी इंचार्ज अवध विहार पवन कुमार सिंह फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे।

ये भी पढ़ें:- रोडवेज बस और बोलेरो में जबरदस्त भिड़ंत, आठ की मौत, कई घायल 

एएसपी पूर्वी सर्वेश मिश्रा एएसपी उत्तरी अमित कुमार सीओ कैंट तनु उपाध्याय सहित एलआईयू की टीम भी मौके पर पहुंचकर मामले को शांत कराया। इंस्पेक्टर कैंट ने बताया की मामले में आशीष गुप्ता की तरफ से तहरीर दी गई है। मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी। जो भी आरोपी होगा उसे जेल भेजा जाएगा।

दीपावली के त्योहार पर कैंट कोतवाली के निलमथा पर बीते कई सालों से बड़े पैमाने पर जुआ खेलने की शिकायत पुलिस को मिलती रही है। इसके बाद भी पुलिस ने दीपावली पर क्षेत्र में गश्त नही किया। जिससे जुआडी बेखौफ होकर सडकों के किनारे जुआ खेलते रहे। वहीं, इंस्पेक्टर कैंट रंजना सचान के मुताबिक अधिकांश फोर्स अन्य जगह ड्यूटी पर लगी थी यही कारण रहा की मामला बढ गया।

loading...
Loading...

You may also like

बारावफात : जुलूस के दौरान जमीन से आसमान तक थीं पैनी नजरें

लखनऊ। बारावफात के जुलूस के दौरान अराजक तत्वों