फैशन/शैलीस्वास्थ्य

अपनी सेहत को न करें नजरअंदाज, जरूर रखें इन बातों का ख्याल

लाइफस्टाइल डेस्क। एक तरफ जहां आप नई जिम्मेदारियों से घिर जाते हैं वहीं इसके बाद आपको अपने लिए बहुत ही कम समय पिल पाता है। क्योंकि एक मां होना बहुत बड़ी बात होती हैं। ऐसे में आप कई बार लापरवाह भी हो जाती हैं। पहली बार मां बनने के बाद सबसे बड़ी परेशानी होती है कि उन्हें बहुत सी चीजों को करने का सही अंदाजा नहीं मिल पाता है।

छोटी-छोटी चीजें उन्हें परेशान करने लगती हैं। लोग कई तरह की सलाह देते हैं जिससे आपको कंफ्यूजन भी हो सकता है। ऐसे समय में आप निराश फील कर सकती हैं। ऐसे में आप बच्चे की देखभाल में इतनी व्यस्त हो जाती हैं कि आपको सोने तक का समय नहीं मिल पाता है। नींद पूरी न होने की वजह से आप जरूरत से ज्यादा थक जाती हैं। ऐसे में आपको अपने बच्चे के साथ अपना भी ख्याल रखना चाहिए। आइए आपको बताते कि बच्चों के साथ-साथ मां अपना ख्याल कैसे रखें।

पूरी नींद जरूरी

बच्चे के साथ-साथ मां के लिए भी भरपूर नींद जरूरी है। अगर आपने ऐसा नहीं किया तो आप अपने बच्चे की भी सही से देखभाल नहीं कर पाएंगी। नींद की कमी आपके काम करने में बाधा उत्पन्न करते हैं। ऐसे में अच्छा यही होगा कि आप अपने पति के साथ मिलकर जल्दी-जल्दी सारे खत्म काम कर लें और फिर अपने बच्चे की देखभाल में लग जाएं। ऐसा करने से आप कुछ समय बचाकर एक अच्छी नींद ले सकती हैं।

हेल्थ का ख्याल रखेंघर में पहला बच्चा होते ही लोग उसकी सेवा में लग जाते हैं। ऐसे में मां को तो अपने लिए बिल्कुल भी समय नहीं मिल पाता है। बच्चे का ध्यान रखते-रखते वह अपनी छोटी-छोटी चीजों को भी भूल जाती है। ऐसे में मां को अपने खाने पीने का पूरा ख्याल रखना चाहिए। इसके लिए जरूरी है कि मां अच्छी तरह से खाना खाएं और अच्छे से आराम करें। ढेर सारा पानी पिएं और तनाव से बचकर रहें। समय समय पर एक्सरसाइज भी करती रहें।

घर वालों की मदद

अगर आप अपने पति के साथ मिलकर अपने बच्चे को पाल रही हैं, तो आप ज्यादा परेशान हो सकती हैं। इसके लिए आपको अपने घर वालों की भी मदद लेनी चाहिए। अगर आप एक पहली बार मां बनी हैं तो डिलीवरी के बाद आपको सही तरीके से अपना ख्याल रखना चाहिए। डिलीवरी के बाद मां के शरीर को बहुत अधिक आराम की जरूरत होती है। इस समय परिवार के सदस्य आपकी मदद कर सकते हैं।

बर्दाश्त करना सीखें

नवजातों की हरकतें अक्सर बदलती रहती हैं। कभी वो सही रहते हैं, तो कभी बीमार पड़ जाते हैं। ऐसे में आप उनके चीजों का अनुमान नहीं लगा सकती हैं। ऐसी हालत में आपको बच्चे के साथ एडजस्ट करना पड़ता है। जैसे उनके साथ ही सोना, उनके साथ ही खाना। मां को बर्दाश्त करना सीखना पड़ता है।

loading...
Loading...