सावधान: नहीं चाहती अपने पति की अकाल मृत्य तो इस तरह अपनी मांग में लगायें सिंदूर

- in धर्म
Loading...

हिन्दू धर्म के अनुसार एक पत्नी के लिए उसका पति ही सब कुछ होता है और वह अपने पति की लंबी उम्र के लिए क्या क्या नही करती। ऐर्क हिन्दू महिला के सुहागन होने का सबसे बड़ा सबूत उसके मांग में लगी हुई सिंदूर होती है जो कि पति के मर जाने के बाद महिलाएं कभी नही लगाती।

आपने बहुत सी स्त्रियों को मांग में सिंदूर लगाते हुए जरूर देखा होगा लेकिन कई बार स्त्रियाँ सिंदूर कैसे भी लगा लेती हैं और उसके सही तरतीब को नही अपनाती। शास्त्रों में ऐसा बताया गया है कि यदि मांग में सिंदूर सही तरीके से न लगाया जाए तो इसके वजह से स्त्री के पति की आयु घट जाती है। आइये जानते हैं मांग में सिंदूर लगाने का सही तरीका क्या है जिससे पति और कभी कोई दिक्कत न आ सके।

हिन्दू धर्म के अनुसार पत्नियों को अपने मांग में सिंदूर लगाते समय हमेशा इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि सिंदूर हमेशा मांग के बीचों बीच मे हो इधर उधर या किनारे न लगा हो। मांग के बीचों बीच मे सिंदूर लगाने से स्त्री के पति की आयु बढ़ जाती है और ऐसा माना जाता है कि इससे उसके पति की कभी भी अकाल मृत्यु नही होती।

Loading...
loading...

You may also like

विश्वगुरु बनने के पथ पर अग्रसर है भारत : स्वामी गोविन्ददेव गिरिजी महाराज

Loading... 🔊 Listen This News   लखनऊ। गीता