केरल : बारिश और लैंड स्लाइड से 20 की मौत, ढाई दशक बाद खुला इडुक्की डैम

इडुक्की डैम
Please Share This News To Other Peoples....

कोच्चि। केरल के मलाप्पुरम और इडुकी जिलों में लगातार 24 घंटों से भारी बारिश जारी है। इस बारिश के बाद हुए लैंड स्लाइड और बाढ़ की वजह से सूबे में 20 लोगों की मौत हो गयी है। भारी बारिश के बाद बढ़ते जल स्तर को देखते हुए केरल में इडुक्की डैम को 26 सालों बाद खोला गया है। भूस्खलन की घटनाओं में कई लोग घायल भी हुए हैं।

इडुक्की डैम को 26 सालों बाद खोला गया है

आपदा प्रबंधन विभाग के अधिकारियों से मिली जानकारी के मुताबिक मलाप्पुरम जिले के निलांबुर में गुरूवार सुबह भूस्खलन की एक घटना में एक ही परिवार के पांच लोग जीवित दफन हो गये। घटना की जानकारी मिलने के बाद इन सभी को मलबे से बाहर निकाला गया। मृतकों की पहचान कुनही (55),गीता (24), मिधुन(17) ,नवनीत(6) और निवेध(4) के रूप में हुई है। परिवार का एक अन्य सदस्य सुब्रमणियन(30) लापता बताया जा रहा है। स्थानीय मीडिया में चल रही खबर के अनुसार इदुकी जिलों में भूस्खलन की दो घटनाओं में दस लोग मारे गये हैं और नौ घायल हुए हैं और तीन अन्य लापता हैं। पिछले 24 घंटों में जिले में पर्वतीय क्षेत्रों में भारी बारिश हुई है जिसकी वजह से भूस्खलन की घटनाएं बढ़ी है।

ये भी पढ़े : तीन तलाक बिल संशोधन को मोदी कैबिनेट की मिली मंजूरी

केरल के बिजली मंत्री एम एम मणि ने घटनास्थल पर पहुंच कर स्थिति का जायजा लिया है। बिजली बोर्ड ने जिला प्रशासन को पहले ही कह दिया था कि वह नदी के किनारे रह रहे लोगों को मामले की जानकारी दे कि पानी छोड़े जाने की स्थिति में उन्हें क्या क्या सावधानियां बरतनी चाहिए। विद्युत मंत्री एमएम मणि ने कहा कि हालत खराब है। मैंने प्रभावित क्षेत्रों का दौरा किया है और गुरुवार सुबह इदामालय बांध के द्वार खोल दिये गये हैं। हम इडुक्की बांध का भी एक द्वार खोलेंगे। यहां चर्चा कर दें कि इससे पहले इडुक्की बांध के गेट 1992 में खोले गये थे। इस बीच मुख्यमंत्री पिनारई विजयन ने स्थिति का आकलन करने के लिए एक आपात बैठक बुलायी है।

loading...

One thought on “केरल : बारिश और लैंड स्लाइड से 20 की मौत, ढाई दशक बाद खुला इडुक्की डैम”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *