ख़ास खबरखेलराष्ट्रीय

कोरोना के बीच इंग्लैंड के फास्ट बॉलर स्टुअर्ट ब्रॉड ने शुरू की ट्रेनिंग

नई दिल्ली। इंग्लैंड के स्टुअर्ट ब्रॉड और क्रिस वोक्स कोरोना वायरस का प्रभाव कम होने के बाद गुरुवार को व्यक्तिगत ट्रेनिंग शुरू करने वाले पहले क्रिकेटर बने। ब्रॉड ने जहां नाटिंघम के ट्रेंट ब्रिज पर वहीं वोक्स ने बर्मिंघम के एजबेस्टन मैदान पर दौड़ लगाई। इंग्लैंड के लिए सर्वाधिक विकेट चटकाने वाले गेंदबाजों में से एक ब्रॉड उन 18 तेज गेंदबाजों में शामिल हैं जिन्हें इंग्लैंड एवं वेल्स ने सात विभिन्न मैदानों पर व्यक्तिगत सत्र के लिए चुना है।

स्काई स्पोर्ट्स के अनुसार बेन स्टोक्स के बाद इंग्लैंड के सर्वश्रेष्ठ ऑलराउंडर वोक्स ने खुलासा किया कि उन्होंने भी ट्रेनिंग शुरू कर दी है। कोरोना वायरस के समय में चीजें सामान्य से अलग थीं जिसमें ब्रॉड ने अपने फैन्स को लाइव अपडेट दिए।

ब्रॉड ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर अपने ट्रेनिंग दिन की विस्तृत जानकारी दी जिसमें उन्होंने खुद की एक फोटो पोस्ट की जिसमें वह अपने घर में डिजिटल थर्मामीटर से तापमान ले रहे हैं जिसके बाद उन्होंने एप के जरिए इसका नतीजा अपलोड किया।

ब्रॉड ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर लिखा कि इसे (ट्रेनिंग) को संभव करने के लिये काफी कुछ किया गया है। इंग्लैंड क्रिकेट और ट्रेंट ब्रिज के सभी लोगों का शुक्रिया, जिन्होंने यह संभव कराया। गेंदबाजी करके अच्छा महसूस हुआ। मजा आया।

इस वैश्विक स्वास्थ्य संकट के कारण इंग्लैंड में मार्च के मध्य से सारी क्रिकेट गतिविधियां एक जुलाई तक मैच बंद हैं जबकि अन्य देशों में क्रिकेट सत्र पहले ही खत्म हो चुका है। इस महामारी के बावजूद इंग्लैंड एवं वेल्स क्रिकेट बोर्ड वेस्टइंडीज के खिलाफ तीन टेस्ट मैचों की सीरीज आयोजित करने की योजना बना रहा है जो पहले जून में होनी थी।

इसके बाद वह अपनी ट्रेनिंग किट को सैनीटाइज करके ट्रेंट ब्रिज पहुंचे। उन्हें कार पार्किंग के लिए निर्धारित स्थान दिया हुआ था और वह खिलाड़ियों के लिए सुरक्षा प्रोटोकॉल के अंतर्गत सीधे पिच पर पहुंचे। उन्हें ड्रेसिंग रूम में कपड़े बदलने की अनुमति नहीं थी। ईसीबी ने तेज गेंदबाजों को गेंदों के अपने सेट दिए थे उन्होंने इसी के साथ पिच पर अकेले ही गेंदबाजी शुरू की और इस दौरान कोई बल्लेबाज या विकेटकीपर मौजूद नहीं था। उस वक्त सिर्फ एक फिजियो था जो कैमरामैन का भी काम कर रहा था।

loading...
Loading...