अखिलेश यादव ने नहीं पूरा किया अपना वादा, आर्थिक मदद का दिया था आश्वासन

अखिलेश यादव
Please Share This News To Other Peoples....

लखनऊ। काकोरी डकैती कांड पीड़ित की बेटी की शादी में आर्थिक मदद करने का आश्वासन देने के बाद भी अखिलेश यादव द्वारा उसे आर्थिक मदद नहीं मिली। बल्कि सपा एमएलसी ने वर वधु को शुभ आशीर्वाद व पीड़ित किसान को बधाई पत्र भेजकर छुट्टी पा ली।

अखिलेश यादव ने आर्थिक मदद करने का दिया था भरोसा

बताते चलें कि काकोरी के बनिया खेड़ा निवासी किसान जगतपाल की बेटी कविता की शादी फरवरी माह में होनी थी। जिसकी तैयारी चल ही रही थी, लेकिन 20 जनवरी की रात डकैतों ने ताबड़तोड़ फायरिंग कर जगतपाल के घर में रखें गहने व नकदी लूट लिया था। इस घटना में जगतपाल का बेटा मोहित और जगतपाल के पिता रघुनाथ डकैतों की गोली लगने से घायल भी हो गए थे। बाद में 22 जनवरी को घटना की जानकारी पाकर जगतपाल के घर पहुंचे पूर्व मुख्यमंत्री व सपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कविता की शादी में उन्हें पूरे तौर पर आर्थिक मदद करने का आश्वासन देने के साथ ही इसकी घोषणा की थी। उधर इस घटना की वजह से निर्धारित समय पर कविता की शादी नहीं हो सकी, बल्कि शादी की तारीख टाल कर इसे 11 मई करना पड़ा।

ये भी पढ़ें: कर्नाटक सीएम पद की शपथ लेते ही येदियुरप्पा ने किसानों के लिए किया बड़ा ऐलान 

पीड़ित किसान ने लगाई गुहार

शादी में आर्थिक मदद के लिए 26 अप्रैल को पीड़ित किसान जगतपाल की ओर से पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के बेहद करीबी व सपा एमएलसी सुनील सिंह साजन को घटना से संबंधित कागजातों की फाइल देकर पूर्व मुख्यमंत्री से आर्थिक मदद दिलाने की गुजारिश की गई। लेकिन कई दिन बीतने के बाद भी उसका कोई संतोषजनक असर नहीं नजर आया। जिसके बाद किसान जगतपाल की ओर से 30 अप्रैल को पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के हाथों में सीधे संबंधित प्रार्थना पत्र देकर आर्थिक मदद की गुहार लगाई गई।

जिस पर अखिलेश यादव ने फिर पूरी मदद  करने का भरोसा दिया। लेकिन लगातार करीब सप्ताह भर तक उनके कार्यालय का चक्कर लगाने के बावजूद पीड़ित किसान को आर्थिक मदद नहीं मिल सकी और जगतपाल ने  अपने रिश्तेदारों व सगे-संबंधियों से कर्ज लेकर 11 मई 2018 शुक्रवार को बेटी की शादी निपटा दी। जगतपाल के मुताबिक शादी निपट जाने के बाद 16 मई की शाम स्पीड पोस्ट द्वारा उनके घर एक चिट्ठी पहुंची। जिसमें सपा एमएलसी सुनील सिंह साजन ने वर वधु को शुभ आशीर्वाद देने के साथ ही पीड़ित किसान को बधाई दी है।

फिलहाल इस चिट्ठी को लेकर पीड़ित किसान के अलावा उसके गांव के लोग व रिश्तेदार अचंभे में हैं। उनका कहना है कि सपा राष्ट्रीय अध्यक्ष ने शादी में आर्थिक मदद करने का आश्वासन दिया, लेकिन उनके मातहतों की वजह से आर्थिक मदद नहीं मिल सकी। बल्कि शुभ आशीर्वाद और बधाई का पत्र भेजकर पीड़ित के मन को और कुरेदा जा रहा है।

Related posts:

पावर कार्पोरेशन ने किसानों की बिजली दरों में की व्यापक बढ़ोत्तरी
साम्प्रदायिक दंगों के विरोध में कई संयुक्त सामाजिक व राजनैतिक संगठनों ने किया पुतला दहन
जंग का मैदान बना BRD महानगर, ओपीडी बंद वरिष्ठ चिकित्सकों में जमकर गाली-गलौज
मोदी सरकार ने महंगी बिजली खरीदकर 4 निजी कंपनियों की भरी जेब : राहुल गाँधी
यूपीकोका को कैबिनेट से मिली मंजूरी
आदिवासी महिलाओं की Nude तस्वीर वायरल
अमेरिका में shut down का ख़तरा, हो सकता है दीवालिया...
गाजे-बाजे के साथ निकलेगी श्याम ध्वजा यात्रा, श्याममय नजर आएगी राजधानी...देखें विडियो
"बला​त्कारी, भ्रष्टाचारी हैं तो आइए, ये अखिलेश का मंच है"- बीजेपी प्रवक्ता
ई-रिक्शा गैराज में लगी आग, 18 वाहन राख
अखिलेश-मायावती के पास 15 दिनों का समय, खाली करना होगा सरकारी बंगले
ABVP बोली योगी का मंत्री करता है दलाली और चोरी, विधानसभा के सामने फूंका पुतला

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *