की-बोर्ड और माउस के मूवमेंट के साथ आपकी बैटरी पर भी फेसबुक की होती है नज़र

फेसबुकफेसबुक

कैलिफोर्निया। कैम्ब्रिज एनालिटिका डेटा लीक विवाद के बाद भी सवालों में फसा हुआ है। अमेरिकी संसद के उच्च सदन यूएस सीनेट के पूछे गए सवाल में मार्क जकरबर्ग ने ये भी स्वीकारा की वो यूजर की निजी जानकारियों  शेयर करता है। फेसबुक पसंद न पसंद, यूजर के फोने में कितनी फोटोस है, यहाँ तक की कम्प्यूटर की-बोर्ड और माउस के मूवमेंट तक पर नजर रखता है।

आपके नेटवर्क और फ़ोन नंबर भी जनता है फेसबुक

आपके माउस के हर क्लिक की जानकारी फेसबुक रखता है। इसे वो ये जानकारी लेता है की कौन सा यूजर किस तरह की चीज़े पसंद करता है। फिर उसके मुताबिक वो विज्ञापन दिखता है। यही नहीं इसकी  आपके बैटरी पर भी की नज़र होती है। उससे ये भी पता होता है की यूजर के फोने में कितनी बैटरी बची है।या तक की आप कौन सा नेटवर्क उसे करते है, आपके फोने में कितने नंबर सेव है, कितनी राम है फोने मई कितनी स्टोरेज है, आप कौन कौन सा आप उसे करते है। इन सब की जानकारी फेसबुक के पास होती है।

फेसबुक

ये भी पढ़े :अगर आप भी है ट्रेन के साथ में सेल्फी लेने के शौकीन तो हो जाए सावधान 

जकरबर्ग ने दिया 2 हजार सवालों के जवाब

कैम्ब्रिज एनालिटिका डेटा लीक के बाद लगातार फेसबुक की प्राइवेसी पॉलिसी पर सवाल उठ रहे  है। उसके बाद यूएस सीनेट में फेसबुक के सीईओ मार्क जकरबर्ग से कई सवाल लिए।  जिसके जवाब में जकरबर्ग ने कुल 454 पन्नों में 2 हजार सवालों के जवाब दे दिए।

हावेई पर पहले भी अमेरिकी खुफिया एजेंसियों ने लगे था डाटा चोरी का आरोप 

आपको बता दें कि जकरबर्ग ने पिछले सप्ताह ही ये बताया की वो 4 चाइनीज मोबाइल निर्माता कंपनियों को यूजर्स का डाटा शेयर करता है।  फेसबुक  जिन कंपनियों को अपने यूजर्स का डाटा शेयर करता है उनमें दुनिया की तीसरी बड़ी मोबाइल निर्माता कंपनी  हावेई भी शामिल है। गौरतलब है कि हुवावे पर अमेरिकी खुफिया एजेंसियों ने भी डाटा बेचने को आरोप लगाया था और लोगों को हावेई के स्मार्टफ़ोन न इस्तेमाल करने को भी कहा था

loading...
Loading...

You may also like

विधान परिषद सभापति रमेश यादव के बेटे अभिजीत की गला घोंटकर हत्या

लखनऊ। विधान परिषद सभापति रमेश यादव के बेटे