सहायक अध्यापक भर्ती परीक्षा में असफल रहे युवक ने फाँसी लगाकर की आत्महत्या

- in Main Slider, क्राइम, ख़ास खबर, लखनऊ
सहायक अध्यापक भर्ती परीक्षा

लखनऊ। सहायक अध्यापक भर्ती प्रक्रिया की राज्य स्तरीय परीक्षा में असफल हुए छात्र ने मंगलवार रात अपने कमरे में खिड़की के पर्दे से पंखे में फाँसी लगाकर आत्महत्या कर ली। घटना की जानकारी तब हुई जब बुधवार सुबह उसका कमरा आवाज लगाने पर भी नहीं खुला। खिड़की तोड़कर देखा तो वह फंदे पर लटका हुआ था। 100 नम्बर की सूचना पर पहुंची पुलिस और स्थानीय पुलिस ने शव को नीचे उतारा। लेकिन पीड़ित पिता ने शव का पोस्टमार्टम कराने और किसी भी विधिक कार्रवाई से इनकार कर दिया।

पीजीआई कोतवाली क्षेत्र के पाठक पुरम नवीं गली की घटना

राम बहाल मौर्य,पत्नी और दो बच्चों के साथ पाठक पुरम कालोनी नवीं गली,पीजीआई में रहते हैं, मूल रूप से प्रतापगढ़ जिले के रहने वाले राम बहाल किसान है,इन्होंने बताया कि इनका बड़ा बेटा अमेरिका में साइंटिस्ट है,जब कि दूसरा बेटा मनोज मौर्य निजी कम्पनी में काम करता है, मृतक आलोक कुमार मौर्य30वर्ष ने बीटीसी कर रखा था, और नौकरी का प्रयास कर रहा था।

आंसर की आने के बाद से था मायूस

6जनवरी की शिक्षक भर्ती परीक्षा की आंसर की  मंगलवार को आई थी। जिसमें आलोक सफल नहीं हो सका था। मंगलवार की शाम को वह बाज़ार से समोसे लेकर आया था। उसके बाद उसकी माँ ने चाय बनाकर दी थी। आलोक ने वही बैठकर समोसा खाया और फिर अपने कमरे में सो गया था। रात में माँ ने जब खाना खाने के लिए पुछा तो उसने खाने से मन कर दिया और फिर रात में किसी समय उसने आत्महत्या कर ली।

इंस्पेक्टर पीजीआई रवींद्र नाथ राय ने बताया कि युवक ने आत्महत्या की है, लेकिन उनके परिजनों ने पोस्टमार्टम कराने या अन्य विधिक कार्रवाई से इंकार कर दिया है।

Loading...
loading...

You may also like

कांग्रेस व महागठबंधन से भ्रमित मुस्लिम मतदाता, भाजपा को मिलेगा सीधा फायदा

🔊 Listen This News नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव