बीएसए के फर्जी दस्तख्त से सीसीएल अवकाश स्वीकृत, सहसमन्वयक के खिलाफ एफआईआर

Please Share This News To Other Peoples....

लखनऊ । जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी के फर्जी हस्ताक्षर बनाकर शिक्षिका को बाल्यपाल्य (सीसीएल ) अवकाश स्वीकृत किये जाने का मामला पकड़ा गया है। प्रकरण में ब्लाक सह समन्वयक द्वारा सीसीएल स्वीकार करने में बीएसए के जाली दस्तख्त बनाये जाने की कलई खुलने के बाद धोखाधडी की शिकार शिक्षिका ने सहसमन्वयक सकरन अराध्य शुक्ला के खिलाफ प्राथमिकी सूचना रिपेार्ट दर्ज करा दी है।

एबीआरसी के द्वारा बीएसए के नाम पर शिक्षिकाओं से वसूली किये जाने सहित फर्जी हस्ताक्षर बनाकर आदेश दिये जाने की जांच को लेकर कड़ी कार्रवाई  के आसार है। जानकारी के अनुसार बेसिक शिक्षा विभाग में सीतापुर जनपद में सहसमन्वयक अराध्य शुक्ला के खिलाफ विकासखण्ड सकरन के प्राथमिक विद्यालय  पतरासा की शिक्षिका ने प्राथमिकी रिपोर्ट जनपद सीतापुर में दर्ज करायी है।

सीतापुर पुलिस को दी गयी शिकायत के तहत अराध्य शुक्ला सहसमन्वयक विकास क्षेत्र सकरन के खिलाफ शिकायत है कि शिक्षिका भारती सिंह ने अपरिहार्यता के कारण बाल्यपाल्य अवकाश के लिये खण्ड शिक्षा अधिकारी के कार्यालय में सम्पर्क किया।

बीईओ कार्यालय में अराध्य शुक्ला ने अवकाश नही मिलने के बारे में जानकारी देते हुये सुविधा शुल्क देने पर उच्च स्तर से सेटिंग की बात कह कर पचास हजार रुपये की मांग की। जिस पर मांग अधिक होने पर भारती सिंह ने कुछ कम पैसे की गुहार की।

सहसमन्वयक अराध्य शुक्ला ने पचीस हजार रुपये देने पर शिक्षिका को सीसीएल दिलाने की बात कही। शिक्षिका का एफआईआर के तहत आरोप है कि अराध्य शुक्ला ने सुविधाशुल्क लेने के बाद बीएसए के जाली दस्तख्त बनाकर सीसीएल आदेश दे दिया।

सीसीएल अवकाश आदेश बीईओ कार्यालय में जमा करने पर कार्यालय से बीएसए आफिस में जानकारी करने पर फर्जीवाडे का खुलासा हुआ। बीएसए के आदेश पर अपने हस्ताक्षर से इंकार करने के बाद विभाग में हडकंप मच गया है। बीएसए अजय सिंह का कहना है कि प्रकरण में जांच के आदेश दे दिये गये हैं।

वही विभागीय सूत्रों का कहना है कि बीएसए आफिस जांच के नाम पर औपचारिकता निभा रहा है। अराध्य के खिलाफ कई अनियमितताओं की शिकायत है। बीएसए कार्रवाई  से कतरा रहे है। वहीं भारती सिंह ने आरोप लगाया है कि सहसमन्वयक अराध्य शुक्ला के द्वारा प्रकरण को वापस लेने के लिये अपने विभागीय लोगों के साथ मिल कर दबाव बनाया जा रहा है।

 

 

 

 

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *