ससुर व जेठ पुत्रवधू से करते है छेडख़ानी, पीडि़ता ने कप्तान से लगाई न्याय की गुहार

- in क्राइम, लखनऊ

लखनऊ। राजधानी के अलीगंज थाना क्षेत्र में एक महिला ने पुलिस पर गंभीर आरोप लगाए हैं। महिला का आरोप है कि वह कई बार अपने ससुर और जेठ की पुलिस से शिकायत करने गई, लेकिन पुलिस ने अभद्रता करते हुए उसे दुत्कार कर थाने से भगा दिया। इतना ही नहीं महिला ने पुलिसकर्मियों पर अभद्र भाषा का प्रयोग करने का भी आरोप लगाया है। महिला का कहना है कि थाना स्तर पर कोई कार्रवाई न होने पर वह एसएसपी कार्यालय जाकर न्याय की गुहार लगाएगी।

पढे:- बेखौफ चोरों ने दो घरों को बनाया निशाना, दो दर्जन से ज्यादा हो चुकी हैं चोरी 

हालांकि ये पूरा मामला क्या है ये पुलिस की जांच का विषय है। जानकारी के मुताबिक मामला अलीगंज के त्रिवेणी नगर तृतीय का है। यहां की रहने वाली एक महिला का आरोप है कि उसके ससुर अशोक कुमार शुक्ला और जेठ सुमित शुक्ला उसके सामने गलत इशारे करते हैं। महिला का आरोप है कि दोनों उसके साथ अवैध संबंध बनान चाहते हैं। पीडि़ता का कहना है कि उसकी वर्ष 2013 में शादी हुई थी। पीडि़त महिला का पति टीवी का मरीज है। पीडि़ता का कहना है कि पति के बीमार होने के बाद दोनों मुझसे बोलते थे मेरे साथ रहो मैं तुझे पैसा भी दूंगा। आरोप है कि दोनों उसे मोबाइल में गंदी-गंदी पिक्चरें दिखाते थे और गंदे इशारे करते थे।

पढे:- तीन घंटे में दारोगा प्रमोद कुमार ने बरामद की लापता लड़कियां 

पुलिस बोली बलात्कार हो तब आना

पीडि़त महिला का कहना है उसने जब इसका पिछले दिनों विरोध किया तो ससुर और जेठ ने सास सीमा शुक्ला और जेठानी कामना शुक्ला के साथ मिलकर उसे बेरहमी से पीटा। इसकी शिकायत महिला ने पुलिस से की तो पुलिस ने मारपीट का मुकदमा दर्ज कर उसे चलता कर दिया। पीडि़ता का आरोप है कि ससुर और जेठ उसके साथ दुष्कर्म करना चाहते हैं। इसकी शिकायत पीडि़ता ने पुलिस से की। आरोप है कि शिकायत सुनने के बजाय पुलिस ने कहा कि जब बलात्कार होगा तब आइयेगा। पीडि़ता ने एसएसपी से न्याय की गुहार लगाई है।

Loading...
loading...

You may also like

मोदी बोले लोकतंत्र हमारे संस्कारों में, जबकि दूसरे दलों में परिवार है पार्टी

मुम्बई। प्रियंका गांधी को कांग्रेस द्वारा पूर्वी उत्तर